Connect with us

गोपालगंज

फौजी का बेटा बना भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट, रोहित मिश्र ने 33 अफसरों के बीच अपनी जगह बनाई

Published

on

आज हम बात करेंगे एक ऐसे व्यक्ति की जिन्होंने अपने गांव और बिहार का नाम रोशन कर दिया है। हम बात कर रहे हैं गोपालगंज जिले के कुचायकोट प्रखंड के सासामुसा मिश्र टोला के रोहित मिश्र की। भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन चुके रोहित मिश्र की बात करें तो उन्होंने बीते शनिवार को सेना को बतौर लेफ्टिनेंट ज्वाइन कर लिया है। पुणे में पोस्टिंग परेड के पासआउट होकर वह लेफ्टिनेंट बने हैं।

बिहार के गोपालगंज जिले के कुचायकोट के रहने वाले रोहित मिश्र भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट पद पर अपनी सेवाएं देंगे। आपको बताएं रोहित मिश्र के साथ भारतीय सेना में 33 अफसर शामिल हुए हैं। बीते शनिवार को महाराष्ट्र के पुणे में स्थित भारतीय सेना के केंद्र पर पोस्टिंग परेड के बाद 33 अफसरों को भारतीय सेना में शामिल किया गया। सभी अफसरों को उनके रैंक के हिसाब से भारतीय सेना में कंधे पर रैंक लगाकर शामिल किया गया। कोरोनावायरस की वजह से पोस्टिंग परेड विशाल स्तर पर नहीं हो पाई। लेकिन सेना के प्रोटोकॉल के तहत पोस्टिंग परेड का आयोजन कराया गया। उसके बाद अफसरों को भारतीय सेना के खेमे में शामिल किया गया।

मां बाप नही पहुँच पाए

जैसे कि लगातार कोरोनावायरस अपने पैर पूरे देश में एक बार फिर पसार रहा है। उसी को देखते हुए पुणे में आयोजित परेड में ज्यादा लोगों को शामिल नहीं किया गया। जिसके चलते लेफ्टिनेंट रोहित मिश्र के पिता तथा मां परेड में शामिल नहीं हो पाए। आपको बताएं रोहित मिश्र के पिता शंभू भी भारतीय सेना में सूबेदार पद से रिटायर है। बेटे के सेना में शामिल होने के बाद दोनों माता-पिता ने खुशी मनाई। पूरे गांव में लोगो ने एक दूसरे को रोहित मिश्र के लेफ्टिनेंट बनने पर बधाई दी और मिठाइयां बांटकर खुशी मनाई।

शुरू से होशियार

रोहित मिश्र के मामा ने बताया है कि रोहित मिश्र ने सैनिक स्कूल गोपालगंज से 12वीं कक्षा तक की पढ़ाई की है। साथ ही रोहित मिश्र ने ग्रेजुएशन की पढ़ाई काशी हिंदू यूनिवर्सिटी बनारस से की है। रोहित के मामा ने बताया कि रोहित मिश्र शुरू से ही भारतीय सेना में जाना चाहते थे। वे बचपन से ही पढ़ाई में होशियार थे और सेना में जाने का सपना देखा करते थे। उन्हें खुशी है कि उनका भांजा रोहित आज भारतीय सेना में बतौर लेफ्टिनेंट पद पर कार्यरत हो चुका है।

उन्हें उम्मीद है कि भारतीय सेना में शामिल होने के बाद उनका भांजा देश की आन बान शान बनाए रखेगा। वही आपको बताएं तो रोहित मिश्र के नाना रामकेश तिवारी भी सीबीआई डीएसपी पद से रिटायर है। उन्हें भी खुशी है कि उनका नाती रोहित आज भारतीय सेना में शामिल हो गया है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

   
    >