Connect with us

पटना

पटना के संजय चला रहे हैं गौरेया बचाने की मुहिम, लगाव देखकर लोग कहते हैं ‘स्पैरो मैन’

Published

on

पशु-पक्षियों की कई प्रजातियां मानवीय हस्तक्षेपों के चलते अपने वातावरणीय स्थान छोड़कर मरने को मजबूर हो जाती है, हालांकि देश और दुनिया में कई पक्षी प्रेमी प्रजाति विशेष को बचाने के लिए भाग दौड़ कर रहे हैं लेकिन वह नाकाफी सी लगती है।

अब गौरैया चिड़िया ही लीजिए जिसका घर बिहार माना जाता है वह वहां से भी विलुप्त हो रही है लेकिन कुछ लोग हैं जो गौरैया संरक्षण पर काम कर रहे हैं।

स्पैरो मैन नाम से प्रसिद्ध संजय कुमार

गौरैया को बचाने के लिए इंडियन इन्फॉर्मेशन सर्विसेस के अधिकारी संजय कुमार दिन-रात लगे हुए हैं। संजय कुमार प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो की पटना ब्यूरो में असिस्टेंट डायरेक्टर पद पर हैं पर लोग उन्हें पटना के ‘स्पैरो मैन’ कहते हैं। संजय का गौरैया के प्रति लगाव उन्हें इतनी मेहनत के लिए ताकत देता है।

घर पर बनवाए शेल्टर

संजय की रोज की दिनचर्या चिड़ियों के बर्तनों में पानी भरने से शुरू होती है। इसके बाद वह उन्हें खाना डालते हैं। वहीं गौरैया के रहने के लिए घर में विशेष तरह के शेल्टर भी बनवा रखे हैं।

सोशल मीडिया के जरिए लोगों को देते हैं प्रेरणा

संजय घर आने वाली गौरैया की तस्वीर अपने कैमरे में कैद करते हैं और लोगों के साथ शेयर करते हैं। वह लोगों से गौरैया संरक्षण के तरीके भी साझा करते हैं।

2 हज़ार से अधिक लोगों को मुहिम से जोड़ा

संजय की पक्षियों को बचाने की यह ललक अब मुहिम में बदल गई है जिसमें 2000 से अधिक लोग जुड़ चुके हैं। वह गौरैया पर वेबीनार करते हैं जिसमें गौरैया की हमारे तंत्र को जरूरत पर विचार साझा करते हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >