इकॉनामिक्स में हैं ग्रेजुएट पर लगाती हैं चाय का ठेला, एक बार जाओगे तो पीकर ही आओगे- यह है वजह!

Graduate Chaiwali Priyanka Gupta : समाज जेंडर देख सकता है, उसे आधार बना कर सही-गलत का फैसला कर सकता है। लेकिन व्यवसाय या कोई पेशा आपका जेंडर, जात या धर्म न देखकर- सिर्फ आपका हुनर देखता है। पटना वीमेंस कॉलेज के पास भी व्यवसाय ने हुनर का तवज्जो दी। 24 साल की प्रियंका गुप्ता वीमेंस कॉलेज के पास चाय का ठेला लगाती हैं। खास बात यह  है कि प्रियंका ग्रेजुएट हैं, पढ़ी लिखी हैं। बावजूद इसके उन्होंने सिर्फ और सिर्फ कर्तव्य पर जोर दिया और इस बात की नजीर पेश की, कि कोई भी पेशा या धंधा छोटा बड़ा नहीं होता- आइए प्रियंका की कहानी थोड़ा नजदीक से जानते हैं और समझते हैं कि उन्हें यह प्रेरणा आखिर कहां से मिली।

इकॉनामिक्स में कर चुकी हैं ग्रेजुएशन

Priyanka Gupta Story

चाय बेचने वालीं प्रियंका गुप्ता वाराणसी के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से इकॉनामिक्स में ग्रेजुएशन कर चुकी हैं। प्रियंका पूर्णिया की रहने वली हैं। मौजूदा वक्त में प्रियंका बिहार के वीमेस कॉलेज के पास चाय बेचती हैं।

नहीं मिली नौकरी तो खोली खुद की दुकान

chai sellar girl

ऐसा नहीं है कि प्रियंका (graduate chaiwali priyanka gupta) जान-बूझकर चाय की दुकान चला रही हैं या फिर उनका यह शौक है। नहीं, बल्कि प्रियंका तो पिछले 2 सालों से प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रही थीं तथा प्रतियोगी परीक्षाएं दे रही थीं। लेकिन दुर्भाग्य कि वह परीक्षा में सफल न हो सकी। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी, और घर वापस न जाकर बिहार के वीमेंस कॉलेज के सामने ही चाय का ठीला लगाने लगीं। प्रियंका चाय की दुकान से ही अपनी आजीविका चला रही हैं।

अप्रैल में ही शुरू की दुकान

priyanka gupta chai selllar

प्रिंयका ने 10 अप्रैल से ही चाय की दुकान लगाना शुरू किया है। प्रियंका कहती हैं कि वह पढ़ी लिखीं भली ही हों- लेकिन चाय बेचने में उन्हें किसी प्रकार की हिचक महसूसनहीं होती। वह बेझिझक और बिना किसी शर्म के चाय बेचने का कारोबार करती हैं। इस संबंध में प्रियंका कहती हैं कि वह खुद पर निर्भर हैं- और यही उनके लिए गर्व की बात है।

मिलेगी इतनी वैरायिटी में चाय

bihar girl tea sellar

प्रियंका (Priyanka Gupta Story) के पास आपको न केवल एक ही तरह की चाय मिलेगी बल्कि इनके पास कईं वैरायिटीज की चाय मौजूद हैं। मसलन – कुल्हड़ वाली चाय, मसाला चाय, गुड़ की चाय, पान चाय, चॉकलेट चाय इत्यादि- तो कभी बिहार के वीमेंस कॉलेज के पास जाना हुआ, तो एक बार प्रियंका की चाय का स्वाद जरूर लें। प्रियंका के चाय के कप का दाम 15 से 20 रुपए रहता है।

कॉलेज के स्टूडेंट्स खूब लेते हैं चुस्कियां

women college in bihar

वीमेंस कॉलेज के स्टूडेंट्स प्रियंका के मुख्य ग्राहक हैं, वह खुलकर चाय की चुस्कियां लेते हैं और प्रियंका से खूब बातें करते हैं- पढ़ाई से भी संबंधित और चाय से भी संबंधित। खास बात यह है कि प्रिंयका ने ग्राहकों को लुभाने के लिए दुकान पर पंच लाइनें लगाई हुईं हैं- जैसे, अब तो पीना ही पड़ेगा, सोच मत.. चालू कर दे बस इत्यादि।

प्रफुल्ल बिलोर को मानती हैं आदर्श

 Prafull Billore

प्रियंका (graduate chaiwali priyanka gupta) बताती हैं कि वह प्रफुल्ल बिलोर को अपना आदर्श मानती हैं। वह कहती हैं कि उन्हीं की वीडियो देखकर मैं प्रेरक हुई हूं तथा चाय का कारोबार स्टार्ट किया। वह बताती हैं कि जब उन्होंने चाय बेचने का प्लान किया तो उन्होंने यह बात अपने पापा को बताई। इसके बाद प्रियंका ने चाय की कई दुकानों पर जाकर, चाय बेचने के तरीकों और इसके व्यापार को समझने की कोशिश की और अंत में दो महीनों की कड़ी मेहनत के बाद उन्होंने भी अपना चाय का स्टाल खोलने का प्लान कर लिया था। आपको बता दें, प्रफुल्ल बिलोर मौजूदा वक्त में सोशल मीडिया के एक चमकते उद्यमी है, जिन्होंने चाय के व्यवसाय से अपना बिजनेस खड़ा किया।

 चाय वाले ने की आर्थिक मदद

priyanka gupta

प्रियंका कहती हैं (Priyanka Gupta Story) कि पटना में दुकान खोलने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के लिए अप्लाई किया लेकिन उन्हें वहां से कोई मदद नहीं प्राप्त हुई। कईं जगहों से धक्के खाने के बाद उनके एक दोस्त राज भगत, जो कि चाय ही बेचा करते थे, उन्होंने प्रियंका की मदद की। उन्होंने चाय की दुकान खोलने के लिए प्रियंका को 30 हजार रुपए की आर्थिक मदद प्राप्त करवाई थी। इसके बाद प्रियंका ने अपने पास से पैसे मिलाकर 1 लाख 25 हजार रुपए में ठेला और अन्य जरूरत भरे सामान खरीदे और फिर चाय की दुकान की शुरुआत कर दी। प्रिंयका ने यह शुुरुआत 11 अप्रैल को पटना वीमेंस कॉलेज के पास की।

प्रियंका बताती हैं कि इस बीच उन्हें काफी लोगों ने हतोत्साहित किया, लेकिन उन्होंने अपने हौसले डिगने नहीं दिए और सबको नजरअंदाज कर उन्होंने अपने सपने को परवाज दिए। आज न केवल प्रियंका ने स्त्री सशक्तिकरण को पेश किया है, बल्कि अन्य स्त्रियों को भी प्रेरित किया है। झलको मीडिया उनके जज्बो को सलाम करता है।

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि