बेरहम और सनकी पिता की काली करतूत, खाना बनाने में बेटी को हुई थोड़ी देर तो कर डाला ये काण्ड

कहते हैं पिता अपनी बेटी के लिए जान भी देने को तैयार रहता है। एक पिता अपने बेटे से ज्यादा अपनी बेटी के करीब होता है। लेकिन सिवान (Siwan) से एक ऐसा मामला सामने आया है। जिसने पिता के नाम पर दाग लगा दिया है। जी हां, सिवान के इस पिता ने अपनी बेटी की ही जान ले ली। उस बेटी की जो दिन – रात अपने पिता की सेवा में लगी रहती थी।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, बुधवार की शाम एक पिता ने अपनी नाबालिग बेटी की गला दबाकर ह’त्या कर दी। जब पिता ने अपनी 14 साल की बेटी श्वेता को खाने के लिए पूछा तो उसने थोड़ी देर ठहरने के लिए कहा। इतने में ही पिता गुस्से से आग बबूला हो गया और उसकी पिटाई करने लगा। और जब इतने पर भी उसका मन नहीं भरा तो उसने उसका गला दबाकर उसे मा’र डाला।

खोल कर बैठा ढोंग की दुकान

हालांकि, आरोपी पिता भागा नहीं लेकिन तरह – तरह के ढोंग करने लगा। और चीख – चीख कर आसपास के लोगों को जुटा लिया। जब लोगों ने लोगों ने लड़की शव देखा तो पुलिस को सूचना दी। थोड़ी देर बाद पुलिस जब वहां पहुंची तो आरोपित पिता को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ के लिए उसे थाने ले गई और लड़की के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

ग्रामीणों ने खोला सच

बता दें कि, मां के निधन के बाद अपने पिता विनोद की देखरेख श्वेता किया करती थी। ग्रामीणों का कहना है कि विनोद ने कुछ साल पहले अपने बेटे को भी इसी तरह मार डाला था और अब बेटी को मार दिया। विनोद की एक बड़ी बेटी भी है जो अपने ससुराल में रहती है। वहीं, अपनी पत्नी के निधन के बाद विनोद मानसिक रुप से बी’मार हो गया था।

पुलिस का कहना है कि विनोद ठीक तरह से जवाब नहीं दे रहा है और सनकी की तरह बात कर रहा है। कभी कहता है मेरा दिमाग खराब हो गया है तो कभी कहता है कि मुझे नींद आ रही है। पुलिस ने फैसला लिया है कि उसे चिकित्सक से दिखाया जाएगा।

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि