Connect with us

दिल्ली + एनसीआर

दिल्ली विधानसभा में मिली सुरंग, स्वतंत्रता सेनानियों को छुपाने में अंग्रेज करते थे इस्तेमाल !

Published

on

देश की राजधानी दिल्ली में एक सुरंग का पता चलने के बाद हर कोई जानना चाहता है कि आखिर कहां मिली है यह सुरंग, क्या है इस सुरंग का राज वगैरह, वगैरह। खबर यह है कि दिल्ली विधानसभा में एक सुरंग का पता चला है जिसका एक सिरा लाल किले से जुड़ता है।

दिल्ली विधानसभा अध्य़क्ष राम निवास गोयल ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि हां, एक सुरंग का पता चला है जो विधानसभा को लाल किले से जोड़ती है। उन्होंने कहा कि ऐसा पता चलता है कि सुरंग का इस्तेमाल ब्रिटिश हुकूमत स्वतंत्रता सेनानियों को ट्रांसफर करने के लिए करती थी ताकि लोगों के सामने लाने से बचा जा सके।

वहीं सुरंग का एक हिस्सा मिलने के बाद आगे की खुदाई अभी नहीं हुई है क्योंकि मेट्रो और सीवर जैसी कई परियोजनाओं के चलते आगे रास्ता बंद है।

1912 में थी यहां केंद्रीय विधानसभा

अभी सारा खेल अनुमानों में ही चल रहा है, वहीं गोयल ने आगे कहा कि जिस भवन में अभी दिल्ली विधानसभा चलती है उसी भवन को 1912 में केंद्रीय विधानसभा के रूप में काम में लिया जाता था। वहीं इसके बाद इसी भवन का इस्तेमाल कोर्ट के रूप में भी किया गया।

बता दें कि अंग्रेजी हुकूमत उस समय सेनानियों को लाल किले में कैद करके रखती थी जिसके बाद सुरंग को लेकर लगाए जा रहे कयास मजबूत होते हैं।

सुरंग का पता कैसे चला?

गोयल के मुताबिक 1993 में जब मैं विधायक बनकर यहां पहुंचा तो सुना था कि यहां एक अंग्रेजों की कोर्ट चला करती थी। इसके बाद मैंने कौतूहलवश स्टाफ से इसकी खोज करने के लिए कहा तो विधानसभा में सुरंग का पता चला।

स्वतंत्रता सेनानियों का मंदिर बनाएंगे

दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष ने आगे कहा कि हाल में आजादी के 75 साल पूरे हुए हैं ऐसे में अब इस सुरंग को स्वतंत्रता सेनानियों के मंदिर के रूप में स्थापित किया जाएगा।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >