Connect with us

दिल्ली + एनसीआर

अमेरिका जापान की लाखों की नौकरी छोड़ CA से IAS बने केशव गोयल, असली देशभक्ति की कहानी

Published

on

वह कहते हैं ना कि जिसके लक्ष्य निर्धारित हो वह व्यक्ति हमेशा उस लक्ष्य की ओर आगे बढ़ता है। जीवन में फिर उसे कुछ और मिलता हो तो वह सिर्फ अपने लक्ष्य की ओर बढ़ता है। ऐसी ही कुछ कहानी है दिल्ली के द्वारका इलाके में रहने वाले केशव गोयल की। केशव गोयल दिल्ली के रहने वाले हैं ,केशव की बात करें तो उन्होंने कॉमर्स में पढ़ाई की है। इसके बाद उन्होंने सीए की पढ़ाई की थी। सीए में केशव गोयल ने 18वीं रैंक हासिल की थी। इसके बाद उन्हें लाखों रुपयों की नौकरी का भी मौका मिला।

लेकिन केशव गोयल ने उसे ठुकरा दिया। दरअसल केशव पहले अमेरिका में जाकर नौकरी करना चाहते थे, जिसके बाद केशव ने नौकरी को छोड़ दिया। सीए में सफलता पाने के बाद केशव गोयल ने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करना शुरू कर दिया और यूपीएससी एग्जाम को पहले ही बारी में सफलतापूर्वक पास कर लिया। केशव गोयल ने यूपीएससी में 213 वी रैंक हासिल की थी। इसके बाद भी केशव को जापान में लाखों रुपए की नौकरी का अवसर मिला लेकिन केशव ने इसे छोड़ दिया। केशव बताते हैं कि सीए में सफलता पाने के बाद उन्होंने सोचा कि भारत में ही रह करके भारत की तरक्की के बारे में सोचना चाहिए।

इस देश में भी बहुत सारी समस्याएं है, इसका हल निकालना चाहिए। इसीलिए उन्होंने अमेरिका के सपने को छोड़ भारत में ही रहकर भारत के लिए कुछ करने की सोची और यूपीएससी का एग्जाम दिया। केशव आज आईएएस अफसर है। उनके पिता बताते हैं कि उनका बेटा पहले अमेरिका में जाकर नौकरी करना चाहता थ। लेकिन आज उनके बेटे ने किया है उससे वह बेहद खुश है।

युवाओं को देते है टिप्स : केशव गोयल युवाओं को परीक्षा के लिए भी टिप्स और प्रेरणा देते हैं। वे कहते हैं कि किसी भी परीक्षा को पास करने के लिए सबसे पहले खुद का सेल्फ मोटिवेशन होना बेहद जरूरी है। इसके बाद में तैयारी कर रहे विद्यार्थी को इस बात का निर्धारण करना चाहिए कि वह सही किताबों को पढ़ें। सही किताबों का चयन करना चाहिए, इसके बाद यह देखना चाहिए कि जो वह पढ़ रहे हैं क्या वह उस परीक्षा को पास करने के लिए काफी है। क्या इतना पढ़ कर के इस परीक्षा को पास कर पाना संभव है।

यूपीएससी की परीक्षा के लिए विद्यार्थी को 12वीं कक्षा से ही देश दुनिया की जानकारी रखना शुरू कर देनी चाहिए। आसपास क्या हो रहा है, इन सभी का ध्यान रखना चाहिए। रोजाना एक अखबार पढ़ना चाहिए। केशव बताते हैं कि घर पर रहकर भी ऑनलाइन उपलब्ध सामग्री से भी पढ़ा जा सकता है और यूपीएससी की तैयारी की जा सकती है।

सोशल मीडिया सोर्स ऑफ इन्फॉर्मेशन : केशव गोयल का कहना है कि सोशल मीडिया को सोर्स ऑफ इंफॉर्मेशन के तौर पर लेना चाहिए। सोशल मीडिया सोर्स ऑफ इंफॉर्मेशन का काम कर सकती है। सोशल मीडिया से आपको हर एक जानकारी मिल सकती है। टाइमपास और समय बर्बादी के अलावा अगर ढंग से किसी भी संसाधन का उपयोग किया जाए तो आप अपने लक्ष्य को जरूर पा लेंगे।

केशव गोयल की कहानी हम सभी के लिए प्रेरणादायक है। सीए में लाखों की नौकरी छोड़ने के बाद उन्होंने देश सुधारने की दिशा में यूपीएससी का एग्जाम दिया और आज आईएएस अफसर बन गए। हम सब उनकी मेहनत और लगन का सम्मान करते हैं।

   
    >