Connect with us

दिल्ली + एनसीआर

पिता की इच्छा पर बेटी ने पहनी वर्दी, 22 साल की उम्र में बनी IPS अधिकारी

Published

on

किसी पिता की इच्छा उसकी बेटी पूरी करे इससे बढ़कर खुशी की बात उस पिता के लिए क्या हो सकती है। बेटी को पुलिस की वर्दी पहने देखना उस पिता के लिए जीवन का सबसे सुखद दृश्य होता है।

दिल्ली से सटे नोएडा में अट्टा गांव की पूजा अवाना ने 22 साल की उम्र में यूपीएससी परीक्षा में सफलता हासिल की और IPS अधिकारी बन गई। पूजा ने ऑल इंडिया 316वी रैंक हासिल की जहां उनकी पहली पोस्टिंग राजस्थान के पुष्कर में हुई, फिलहाल वह सिरोही में सीआईडी सीबी एसपी पद पर तैनात है।

पूजा पुलिस सेवा में आने के बाद कई अहम पदों पर रह चुकी है, इस दौरान उन्हें राजस्थान पुलिस में डीसीपी के पद पर भी काम करने का मौका मिला। वहीं वह जयपुर ट्रैफिक पुलिस कमिश्नर का पद भी संभाल चुकी है।

बचपन से ही थी पढ़ाई में होशियार

पूजा शुरुआत से ही पढ़ाई में होशियार थी। वह कभी भी स्कूल जाने से नहीं कतराती थी। स्कूल के बाद कॉलेज के दिनों में भी वह पढ़ाई को लेकर हर किसी को नजरों में बनी रहती थी।

 पिता की इच्छा पर दिया था UPSC एग्जाम

पूजा बताती है कि उनके पिता हमेशा से चाहते थे कि बेटी एक दिन आईपीएस अधिकारी बने और वह उन्हें वर्दी में देख सके। ऐसे में अपने पिता की इच्छा का मान रखते हुए पूजा ने 2010 में पहली बार यूपीएससी एग्जाम दिया लेकिन असफलता हाथ लगी।

इसके बाद अगले प्रयास में पूजा ने पूरी तैयारी के साथ परीक्षा दी और सफलता हासिल की।

लॉकडाउन में पहुंचाया लोगों के घरों में भोजन

पूजा ने कोरोनाकाल के दौरान राजस्थान के प्रतापगढ़ में अपनी सेवाएं दी और इस दौरान लॉकडाउन में उन्होंने लोगों के घरों तक खाना पहुंचाया। वहीं कोरोना महामारी के समय दवाईयों की कालाबाजारी को लेकर कार्यवाही करने पर पूजा काफी समय तक चर्चा में रही।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >