14 ऑपरेशन, 1 साल बेड रेस्ट, ससुराल वालो ने छोड़ा साथ,फिर भी IAS बनी प्रीति

14 ऑपरेशन होने के बाद 1 साल तक बेड पर रहने के बाद शादी टूट जाने के बाद भी हिम्मत ना हार कर यूपीएससी की परीक्षा में 754 रैंक (IAS 754) लाकर आईएएस बनने वाली प्रीति बेनीवाल (IAS Preeti Beniwal) की कहानी आज हम आपको बताएंगे, हरियाणा के करनाल जिले (Haryana Karnal)  के दुपेड़ी गांव की रहने वाली प्रीति बेनीवाल ने यूपीएससी की परीक्षा को पास कर अपने बचपन के आईएएस बनने के सपने को पूरा किया है।

ऐसी रही शिक्षा

बात करें प्रीति बेनीवाल की पढ़ाई की तो उन्होंने पांचवी कक्षा तक की पढ़ाई फफड़ाना गांव के यूनिक स्कूल से की थी। इसके बाद उन्होंने छठी से दसवीं कक्षा तक की पढ़ाई थर्मल के राज्यकीय स्कूल से की थी। 12वीं कक्षा की पढ़ाई नॉन मेडिकल स्ट्रीम प्रीति ने इंडियन स्कूल की और 12वी के बाद उन्होंने साल 2007 से 2011 तक एनसी कॉलेज इसराना से बीटेक की पढ़ाई की थी। उसके बाद 2011 से 2013 तक उन्होंने एसबीआई कॉलेज (SBI College) समालखा से एमटेक की पढ़ाई की है।

ias preeti beniwal

2 जगह की नौकरी

प्रीति बेनीवाल ने साल 2013 में एमटेक पूरी करने के बाद ग्रामीण बैंक (Garmin Bank) बतौर कलर के पद पर नौकरी करना शुरू किया। साल 2016 तक वह बहादुरगढ़ (Bahadurgarh) में ग्रामीण बैंक में नौकरी करती रही। इसके बाद 2016 में उनका चयन एफसीआई (FCI Assistant General) में असिस्टेंट जनरल पद पर हो गया और 2016 से 2021 तक इस पद पर नौकरी की। प्रीति बेनीवाल की शादी साल 2016 में हुई थी।

हुआ एक एक्सीडेंट बदल गई जिंदगी

प्रीति बेनीवाल के साथ एक बहुत बड़ा हादसा हो गया। प्रीति अपने पिता जो बिजली विभाग जेई (JE) पद से रिटायर (Retired) है, उनके साथ परीक्षा देने के लिए जा रही थी। तभी प्रीति का पैर अचानक से फिसल गया और वह ट्रेन (Train Accident) के आगे आगे आ गई। ट्रेन के तीन कोच उनके शरीर के ऊपर से निकले। इसके बाद प्रीति की सर्जरी हुई और 14 ऑपरेशन (14 Operation) हुए। प्रीति चलने फिरने में योग्य नहीं थी और प्रीति के ससुराल वालों ने भी उनका साथ छोड़ दिया था। इसके बाद प्रीति के पिता ने उन्हें हौसला दिया और कहा कुछ करके दिखाओ। बेड पर रेस्ट कर रही प्रीति ने मन में ठाना और अपने बचपन के सपने को पूरा करने की राह पर निकल पडी। अपने मां बाप और अपने भाई को प्रेरणा स्रोत बना कर प्रीति ने आईएएस परीक्षा की तैयारी की और आखिरकार अपनी मेहनत के साथ बचपन के सपने को पूरा कर लिया।

preeti beniwal

प्रीति की यह सलाह

हरियाणा की बेटी प्रीति बेनीवाल सलाह देते हुए कहती हैं कि कभी भी जीवन के अंदर उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए। वह कहती हैं कि किसी भी काम को करने के लिए जुनून होना सबसे ज्यादा जरूरी है। यूपीएससी की तैयारी करने के लिए बेसिक मजबूत होना और इसके एक एक कॉन्सेप्ट को क्लियर करना सबसे ज्यादा जरूरी है। प्रीति कहती है कि यूपीएससी की परीक्षा के लिए 14 घंटे तक की पढ़ाई करना जरूरी है और साथ ही अपने टारगेट पर फोकस रहना और निरंतर मेहनत करना भी जरूरी है प्रीति ने यूपीएससी की परीक्षा को अपने तीसरे प्रयास में पास किया है। पहले प्रयास में प्री परीक्षा में असफल हो गई इसके बाद दूसरे प्रयास में वह मेंस परीक्षा तक पहुंची थी। आखिरकार तीसरे प्रयास में उन्हें आईएएस की परीक्षा में सफलता मिल गई।

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि