Connect with us

झारखण्ड

विचित्र झरना: ताली बजाने पर ऊपर की तरफ उठता दलाही कुंड का पानी, जानें ऐसी क्या है वजह

Published

on

भारत में सदियों से ही ऐसी प्राचीन चीजें रही है जो सालों बाद भी रहस्य बनी हुई है। किसी के साथ रोचक इतिहास जुड़ा है तो कुछ के साथ कई तरह की मान्यताएं चलती है। हम जानते हैं कि हमारा देश मंदिरों और ऐतिहासिक धरोहरों के लिए जाना जाता है।

अक्सर वैज्ञानिक भी कई गुत्थियों को सुलझा पाने में आज भी नाकाम है, आज हम एक ऐसी ही जगह के बारे में आपको बताएंगे जहां का पानी आज भी हर किसी के लिए एक पहेली है।

हम बात कर रहे हैं एक ऐसे ही कुंड की जहां ताली की आवाज गूंजते ही उसका पानी ऊपर की तरफ आने लगता है। झारखंड के बोकारो शहर से करीब 27 किलोमीटर दूर स्थित दहाली कुंड अपने आप में एक रहस्यमयी कुंड है जहां कोई भी आकर अगर ताली बजाता है तो उसका पानी ऊपर आने लगता है। साल भर यहां पर्यटकों का जमावड़ा लगा रहता है। दहाली कुंड में आज भी पानी गर्म आता है।

मौसम के साथ बदलता है पानी

वहीं कुंड का पानी मौसम के हिसाब से अपने आप बदल जाता है जैसे सर्दियों में इस कुंड में भाप निकलने लगती है और गरम पानी आता है तो वहीं गर्मियां आते ही ठंडा पानी निकलता है।

वैज्ञानिकों का क्या कहना है?

बता दें कि इस कुंड को लेकर कई बार वैज्ञानिकों ने खोज की तो उन्होंने पाया कि यहां पानी जमुई नाले से होकर गरागा नदी में जाकर मिलता है। वहीं पानी के ऊपर उठने को लेकर उनका कहना था कि यहां पानी बहुत नीचे की ओर होता ऐसे में ताली की आवाज पड़ते ही वह ऊपर उठता है।

लोगों में गहरी आस्था

वैज्ञानिकों तर्कों के इतर इस कुंड के प्रति लोगों की गहरी आस्था है। लोगों का मानना है कि इस कुंड में एक स्नान से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है। वहीं कुछ श्रद्धालुओं का कहना है कि इस कुंड के पानी में औषधीय गुण है जिससे त्वचा संबंधी समस्याएं दूर होती है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >