दिल्‍ली : एक दलित बच्‍ची की ब्लात्कार कर हत्‍या, अंतिम संस्‍कार से पहले शव देख घरवालों के उड़े होश

पहले निर्भया थी, कुछ समय पहले हाथरस था, फिर कुछ दिन कैंट चर्चा में रहा जो आज भी लगातार है, अब पश्चिमी दिल्‍ली/गुड़गांव की गलियां भी दलित बेटियों के साथ नाइंसाफी की घटनाएं दर्ज कर रही है। ताजा मामले के मुताबिक पश्चिमी दिल्ली में रहने वाली एक 13 वर्षीय दलित लड़की के साथ उसके मकान मालिक के एक रिश्तेदार द्वारा गुड़गांव में कथित रेप एवं हत्‍या करने का मामला उजागर हुआ है।

आरोपियों ने दलित बच्‍ची के गरीब पिता पर लड़की के अंतिम संस्कार का दबाव भी डाला, वहीं पीड़िता की ओर से दी गई एफआईआर में कई आरोपी है जिन पर आईपीसी की विभिन्‍न धाराओं, POCSO Act और एससी/एसटी एक्‍ट (SC/ST Act) के तहत मामला दर्ज हुआ है।

पीड़ित है एक दिहाड़ी मजदूर

पीड़िता के मजदूर पति कहते हैं कि उसने पिछले महीने मकान मालिक के कहने पर अपनी बेटी को आरोपी प्रवीण के गुड़गांव स्थित घर पर काम करने को भेजा था. मृतका दलित बच्‍ची के पिता के अनुसार जबकि आरोपी ने दावा किया कि लड़की की बीमारी के कारण मृत्यु हुई है।

बच्‍ची के पिता पूछकर पुलिस ने पोस्टमॉर्टम करवाई जिसकी रिपोर्ट के आधार पर उनका कहना था कि बच्ची के चेहरे और प्राइवेट पार्ट पर गंभीर चोटें आई हैं। वहीं रिपोर्ट में रेप की भी पुष्टि हुई

एक मीडिया संस्थान से बात करते हुए पीड़ित के पिता ने कहा कि, पिछले महीने मकान मालिक के कहने पर जो “परिवार की तरह था”, उसने अपनी बेटी को गिरफ्तार आरोपी प्रवीण के साथ गुड़गांव स्थित उसके घर में काम करने की इजाजत दी थी.

पिता की ओर से दर्ज एफआईआर के अनुसार, उसकी मकान मालकिन ने उससे कहा था कि उसके भाई की एक छोटी बेटी है और अगर वह अपनी बेटी को उसके घर भेज दे तो इस बच्‍ची के साथ खेल सकती है और फिर मकान मालिकन उसे 17 जुलाई को अपने साथ ले गई थी।

पड़ोसियों के कहने पर रोका अंतिम संस्कार

घटना के बाद 23 अगस्त को मकान मालिक ने लड़की के पिता को फूड प्वाइजनिंग का हवाला देते हुए उनकी बेटी की मौत होने की खबर दी जिसके करीब 4 घंटे के बाद आरोपी प्रवीण, मकान मालिकन और दो अन्य लोग लड़की के शव को दिल्ली लाए।

इसके बाद पिता के पास लकड़ी और पूजा का सामान था और वह दाह संस्कार करने की तैयारी कर रहे थे तभी कुछ पड़ोसियों के कहने पर लड़की के शव को देखा तो हर कोई हैरान रह गया।

गौरतलब है कि बाबू जगजीवन राम अस्पताल के डॉक्टरों की रिपोर्ट में योनि और गुदा यौन उत्पीड़न की बात कही गई है. आपको बता दें कि बिहार की रहने वाली मृतक लड़की अपने तीन छोटे भाई-बहनों और माता-पिता के साथ यहां किराए के मकान में रहती थी।

वहीं मामले की जांच कर रहे गुड़गांव एसीपी (वेस्ट) राजिंदर ने बताया कि माता-पिता की शिकायत पर हमने आरोपी प्रवीण और उसके रिश्तेदारों के खिलाफ हत्या, बलात्कार की धाराओं और पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज कर प्रवीण को गिरफ्तार कर लिया है।

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि