Connect with us

खबरे

अब ड्रोन उड़ाना हुआ आसान, नए ड्रोन नियमों को मिली मंजूरी, लाइसेंस के लिए नहीं लगेगी सिक्योरिटी

Published

on

अगर आप ड्रोन को लेकर क्रेजी हैं तो आपके लिए एक अच्छी खबर हैं। सरकार ने अब ड्रोन के लिए रजिस्ट्रेशन या लाइसेंस के लिए सिक्योरिटी क्लियरेंस जैसी जरूरतें खत्म कर दी है। वहीं ड्रोन चलाने के लिए मंजूरी लेने की फीस में भी कमी की गई है।

केंद्र सरकार के गुरूवार को ड्रोन से जुड़े नए नियमों को मंजूरी देने के बाद अब ड्रोन से जुड़े नए नियम अनमैन्ड एयरक्राफ्ट सिस्टम्स रूल्स 2021 में शामिल माने जाएंगे। गौरतलब है कि इन नियमों के लिए अधिसूचना बीते 25 अगस्त को जारी हुई थी।

वहीं इससे पहले केंद्र सरकार ने 16 जुलाई को नए ड्रोन नियमों का ऐलान किया था और 5 अगस्त तक उस पर टिप्पणियां मांगी गई थी।

आइए जानते हैं कि ड्रोन से जुड़े नए नियमों में क्या है ?

  • ड्रोन के नए नियमों में ड्रोन के कवरेज को 300 किग्रा से बढ़ाकर 500 किग्रा किया गया है।
  • फॉर्म्स/परमिशन की संख्या 25 से घटाकर 5 होगी।
  • ड्रोन चलाने की मंजूरी फीस को ड्रोन के वजन से अलग कर दिया गया है।
  • जुर्माने की अधिकतम राशि 1 लाख रुपये तक सीमित होगी।
  • ग्रीन जोन में ड्रोन चलाने के लिए मंजूरी लेने की जरूरत नहीं होगी।

  • एयरपोर्ट के आस-पास के इलाकों में 8-12 किमी के क्षेत्र में 200 फीट की ऊंचाई तक बिना मंजूरी के ड्रोन चलाया जा सकता है।
  • ड्रोन का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन डिजिटल स्काई प्लेटफॉर्म से होगा।
  • गैर-कॉमर्शियल प्रयोग के लिए नैनो ड्रोन और माइक्रो ड्रोन उड़ाने के लिए पायलट लाइसेंस नहीं चाहिए।
  • ड्रोन उड़ाने की ट्रेनिंग और परीक्षा को ऑथराइज्ड ड्रोन स्कूल से करवाया जाएगा जिसकी निगनारी डीजीसीए करेगा।
  • ड्रोन के आयात में डायरेक्टरोट जनरल ऑफ फॉरेन ट्रे़ड (डीजीएफटी) रेगुलेशन करेगी।
  • कार्गो डिलीवरी के लिए ड्रोन कोरिडोर बनाया जाएगा।
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >