PM मोदी ने जवानो के बीच मनाई दिवाली दिल्ली से बिना VIP रूट,जम्मू के नौशेरा में पहुंचे मोदी

दिवाली के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi)  जवानों के बीच दिवाली मनाने पहुंचे। हर साल की तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2021 की दिवाली भी जवानों (Modi Diwali with Army) के बीच में मनाई। प्रधानमंत्री इस बार दिवाली के दिन जम्मू कश्मीर के राजौरी इलाके के नौशेरा (Modi in J&K Naushera) में पहुंचे। यहां उन्होंने सबसे पहले पहुंच कर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी और साथ ही बाकि जवानों के साथ दिवाली मनाई।

बिना वीआईपी रूट के निकले मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह जब दिल्ली से जम्मू निकले तो उनके लिए कोई भी वीआईपी रूट (Modi No VIP Route) नहीं लगाया गया था। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी की गाड़ी दिल्ली की ट्रैफिक सिग्नल पर भी रुकी थी। जम्मू निकलते वक्त दिल्ली की सड़कों पर प्रधानमंत्री के लिए बिना वीआईपी रूट के साथ उनका काफिला निकला। ट्रैफिक सिग्नल पर उनकी गाड़ी को रुका हुआ भी देखा गया। प्रधानमंत्री हर साल की तरह इस साल भी सीमा पर तैनात जवानों के साथ दीवाली मनाने पहुंचे।

modi on diwali

राजौरी के इलाके में मोदी

मोदी जम्मू कश्मीर के राजौरी के नौशेरा इलाके में जवानों के बीच पहुंचे और वहां पहुंच कर उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक की। पीएम मोदी ने सेना की तैयारियों का भी जायजा लिया। साथ ही पीएम मोदी ने बड़े अधिकारियों के साथ बैठक कर सुरक्षा को लेकर भी बैठक की। उन्होंने जवानों का हौसला भी बढ़ाया। हम आपको बता दें तो राजोरी नौशेरा इलाके में पिछले कई दिनों से आतंकी घटनाओं के खिलाफ सेना को ऑपरेशन (Army Operation) जारी है। इस बीच प्रधानमंत्री के वहां पहुंचने के बाद सुरक्षा एजेंसियों (Surksha Agency) का हाई अलर्ट (High Alert) उस इलाके में है। जानकारी के लिए आपको बता दें तो साल 2019 में भी प्रधानमंत्री मोदी इस इलाके में दिवाली मनाने पहुंचे थे।

pm modi

ऐसी पीएम मोदी की दिवाली

प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर के नौशेरा इलाके में पहुंचने के बाद सबसे पहले शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। साथ ही साथ उन्होंने जवानों को संबोधन भी दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि सभी लोग अपने परिवार के साथ दिवाली मना रहे हैं और मैं भी अपने परिवार के साथ दीवाली मनाने पहुंचा हूं। साथ ही पीएम मोदी ने सेना के जवानों का हौसला बढ़ाया और उनके गौरवशाली इतिहास को भी याद किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि सेना देश का सुरक्षा कवच है और सेना की वजह से ही देश के अंदर शांति और सुरक्षा बनी रहती है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना वीरता का जीता जागता उदाहरण है। प्रधानमंत्री मोदी ने जवानों को बहादुर बताया और साथ ही बताया कि दुश्मन जब हमारे देश में कदम रखता है तो भारतीय सेना उसे मुंहतोड़ जवाब देती है। प्रधानमंत्री मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) को भी याद किया और कहा कि नौशेरा के जवानों ने सर्जिकल स्ट्राइक में भी वीरता दिखाई थी। साथ ही प्रधानमंत्री ने पुरानी सरकारों पर तंज कसते हुए कहा कि पहले सेना को दूसरे देशों पर निर्भर होना पड़ता था। लेकिन अब देश के अंदर ही सेना के बड़े से बड़े हथियार अत्याधुनिक हथियार बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश में तेजस अर्जुन (Tejas Arjun Tank) जैसे टैंक बन रहे हैं। साथ ही अब देश को दूसरे देशों पर निर्भर नहीं होना पड़ता और आत्मनिर्भर भारत (Atamnirbhar Bharat)  पर जोर दिया जा रहा है। वही प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सेना में महिलाओं की भागीदारी बढ़ रही है। एनडीए और मिलिट्री स्कूलों में भी लड़कियों को पूरा मौका दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में जवानों का हौसला बढ़ाया और कहा कि नौशेरा की धरती पर शौर्य की कई गाथा लिखी गई है, जो ना झुका है ना कभी रुका है यही तो नौशेरा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नौशेरा में हर आतंकी घटना को सेना ने नाकामयाब किया है। प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद जवानों के बीच जय हिंद (Jai Hind), भारत माता की जय (BHarat Mata Ki Jai) का जयघोष देखने को मिला।

modi with army

देश को भी दी बधाई

वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश को भी ट्वीट (PM Modi Tweet On Diwali) कर दीवाली की बधाई दी। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि देशवासियों को इस पावन अवसर दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएं। उन्होंने लिखा कि मैं कामना करता हूं कि प्रकाश का यह पर्व आप सभी के जीवन में सुख,संपन्नता और सौभाग्य लेकर आए।
Wishing Everyone a Very Happy Diwali

हर दीवाली जवानों के बीच

वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात करें तो प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्होंने हर साल दिवाली जवानों के बीच मनाई है। साल 2014 में पीएम बनने के बाद पहली दिवाली 23 अक्टूबर 2014 को सियाचिन बॉर्डर पर जवानों के बीच दिवाली मनाने पहुंचे थे। वहीं 11 नवंबर 2015 को उन्होंने पंजाब में जवानों के बीच दिवाली मनाई और साल 1965 के युद्ध के वार मेमोरियल का भी दौरा किया था। 30 अक्टूबर 2016 को पीएम ने हिमाचल के किन्नौर में भारत चीन के बॉर्डर पर जवानों के बीच दिवाली मनाई थी। साल 2017 की बात करें तो 18 अक्टूबर साल 2017 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू कश्मीर के गुहेज इलाके में पहुंचकर जवानों के बीच दिवाली मनाई थी। 7 नवंबर 2018 को आईटीबीपी के जवानों के बीच पहुंचकर उत्तराखंड के हर्षिल में प्रधानमंत्री मोदी ने दिवाली मनाई थी। 22 साल 2019 में 27 अक्टूबर 2019 को एलओसी पहुंचकर प्रधानमंत्री जवानों के बीच दिवाली मनाने पहुंचे थे। वहीं पिछले साल की बात करें तो प्रधानमंत्री मोदी ने 14 नवंबर 2020 को जैसलमेर के लोंगेवाला पोस्ट पर पहुंचकर जवानों के बीच त्योहार को मनाया था। प्रधानमंत्री मोदी पीएम बनने के बाद से हर साल दिवाली पर सेना के बीच में जाकर जवानों को मिठाई खिलाकर दिवाली का त्यौहार मनाते हैं। इस बार भी उन्होंने जम्मू-कश्मीर के राजौरी के नौशेरा सेक्टर में पहुंचकर जवानों के बीच उन्हें मिठाई खिलाकर दिवाली मनाई।

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि