Connect with us

खबरे

भारतीय सेना में सूबेदार शेखावाटी के आजाद सिंह शेखावत जो सिर पर फुटबॉल रखकर लगाते हैं 100 मीटर की दौड़

Published

on

हारे थके जीवन के बंदे,

कदम कदम पर पड़ते हैं।

हौसलो के धीर धारी,

बिना पंखों के भी उड़ते हैं।

राजस्थान में शेखावाटी का नाम सूबे में ही नहीं बल्कि देश-दुनिया में भी अलग पहचान रखता है। यहां पर अलग-अलग क्षेत्रों में कई ऐसी महान शख्सियत हुई जिन्होंने अपना परचम लहराया है।

ऐसी ही असाधारण विचित्रताओं से भरे हुए शेखावाटी की शान, धोरों की पहचान, फौजियों की धरती बड़ागांव के उभरते सितारे आजाद सिंह शेखावत हैं जो भारतीय सेना में बतौर सूबेदार पद पर तैनात हैं और सेना के अलावा कई रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं।

आजाद सिंह का जन्म 1 जुलाई 1970 को बड़ागांव में नवल सिंह शेखावत के घर हुआ। आजाद सिंह अपने पिता की तीन संतानों में सबसे बड़े हैं। आजाद सिंह का विवाह सरदारशहर के पास भीमसर गांव की समदर कंवर के साथ हुआ है जिनके दो बेटियां और एक बेटा है।

सेना में भर्ती होने गए तो मिली निराशा

आजाद सिंह जब सेना में भर्ती होने के लिए गए तो वह दौड़ पास नहीं कर पाए। आपको बता दें कि उनके पिताजी उस समय नेशनल प्लेयर थे। निराश होकर घर लौटने पर पिताजी ने उन्हें कुछ नहीं कहा। आजाद सिंह ने अपने पिताजी से एक मौका और देने को कहा।

कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो,

आकाश भी छोटा नजर आता है।

उस प्यास से  मुरझाए पंछी को,

तालाब भी लौटा नजर आता है।

आजाद सिंह के कहे मुताबिक अगली बार सेना भर्ती के दौरान उन्होंने सबसे आगे रहकर चार चांद लगा दिए। आजाद सिंह बॉस्केटबॉल के खिलाड़ी भी रहे हैं।

कई रिकॉर्ड तोड़ हर किसी को चौंकाया

आजाद सिंह सेना के अलावा 18 से 20 घंटे प्रतिदिन एक-एक सैकंड अपने सिर के ऊपर फुटबॉल को रोक कर ऱखना भी जानते हैं। वह अब कई घंटों तक सिर पर फुटबॉल रोक कर रख सकने में माहिर हो गए हैं।

हाल ही में जबलपुर में सिर पर फुटबॉल रखकर 100 मीटर की दौड़ लगाकर आजाद ने 17.7 सैकंड में विश्व रिकॉर्ड बनाया था। आजाद सिंह के नाम एशिया बुक, गिनीज बुक और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज हैं। इसके अलावा वह 6 घंटे 7 मिनट बोतल सिर पर रखकर 103 किलोमीटर चल भी चुके हैं।

वहीं 2019 में सिर पर फुटबॉल रखकर 4 घंटे 5 मिनट तक योग एवं प्राणायाम करने का अनूठा रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज करवाया।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >