Connect with us

मध्य प्रदेश

ऑनलाइन गेम में 40 हजार हारने पर 13 साल के मासूम लगाई फांसी, सुसाइड नोट पढ़ छलक जाएंगे आंसू

Published

on

कोरोनाकाल में बच्चों के खेलने से लेकर पढ़ने तक का पूरा सिस्टम बिगड़ गया. अब हर माता-पिता यही चाहते हैं कि बच्चे स्कूल नहीं जा रहे हैं तो कम से कम पढ़ाई के साथ खेल को भी समय दें..क्योंकि बच्चों के लिए दोनों जरूरी है।

लेकिन स्मार्टफोन और सोशल मीडिया के युग में आउटडोर गेम तो जैसे लुप्त होते जा रहे हैं, अब बच्चों की दुनिया उनके मोबाइल में बसती है. मोबाइल गेम की लत से हुआ ताजा हादसा सामने आया है जहां मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में 13 साल के कृष्णा ने आत्महत्य़ा कर ली। लॉकडाउन में अपनी मां के मोबाइल से ऑनलाइन क्लास लेने के बाद उसको गेम खेलने का चस्का भी लग गया।

गेम में हार गया 40 हजार रूपए

कृष्णा पैसे लगाने का गेम खेला करता था जिसमें वह 40 हजार रुपए हार जो उसकी मां के बैंक अकाउंट से कट गए. कृष्णा की मां प्रीति पांडेय को जब यह बात पता चली तो उन्होंने उसे बहुत डांटा।

डांटने के बाद डिप्रेशन में चला गया कृष्णा

मां के डांटने के बाद कृष्णा को उस बात का इतना बुरा लगा कि वह डिप्रेशन में चला गया और एक दिन उसके ऐसा कदम उठा लिया जिसके बारे में किसी ने सोचा भी नहीं था, कृष्णा ने फंदे पर लटक फांसी लगा ली और खुदखुशी से पहले एक सुसाइड नोट लिखकर अपनी मां से माफी मांगी।

6वीं क्लास का कृष्णा था इकलौता बेटा

एमपी में सागर रोड़ पर रहने वाले कृष्णा विवेक पांडेय और प्रीति पांडेय का कृष्णा इकलौता बेटा था. कृष्णा के पिता पैथालॉजी संचालक हैं और मां जिला अस्पताल में है. 6वीं क्लास में पढ़ने वाले कृष्णा के एक बहन है। बीते शुक्रवार दोपहर 3 बजे घर पर बहन के साथ अकेला होने के दौरान गेम खेलते समय पैसे कटने के बाद मां ने उसे फोन पर फटकार लगाई।

सुसाइड नोट में लिखा मां मुझे माफ कर देना…

मां की डांट सुनकर कृष्णा ने खुद को कमरे में बंद कर लिया और बाहर से आवाज लगाने के बाद भी नहीं खोला. पेरेंट्स के घर आने के बाद जब दरवाजा तोड़ा गया तो देखा कि 13 साल का मासूम फंदे से लटक रहा है। उसके पास एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें 40 हजार रुपए हारने की और माफी लिखी हुई थी.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >