Connect with us

अजमेर

पुष्कर मेले में चर्चा में आया मारवाड़ी नस्ल का घोड़ा,कीमत से ज्यादा रखराव में आता है खर्च

Published

on

Pushkar mela ghoda

मारवाड़ी नस्ल के घोड़ों की डिमांड हिंदुस्तान ही नही विश्व भर में भी है। इनकी अधिक डिमांड के पीछे इनकी ताकत,ऊंचाई, लंबाई इनकी रफ्तार व सुंदरता है। अजमेर के पुष्कर मेले (Ajmer Pushkar Mela) में भी इन दिनों मारवाड़ी (Marwadi) और काठियावाड़ी नस्ल (Kathiawadi Breed) के घोड़े को खरीदने के लिए कोने-कोने से लोग आए हैं। जो घोड़ा इस वक्त अजमेर के पुष्कर मेले में चर्चा में है उसका नाम शमशेर (Shamsher) है यह मारवाड़ी नस्ल (Marwadi Breed Horse) का घोड़ा है।

महीने का खर्चा बहुत महंगा

शमशेर नाम के इस मारवाड़ी नस्ल के घोड़े की कीमत एक लग्जरी कार (Luxury Car) की जितनी है। इसके रखरखाव (Maintenance) में भी बहुत खर्चा आता है। इस घोड़े के मालिक अनुपम उर्फ बंटी टंडन है वे कहते हैं कि पूरे महीने का खर्चा 40000 रुपये आता है। घोड़े की डाइट (Horse Diet) में खर्चा अधिक है,इस वजह से इनमें इतनी ताकत है।

शमशेर की खुराक है ज्यादा

मारवाड़ी नस्ल के घोड़े शमशेर की खुराक की बात करें तो यह आम दिनों में चने की चूरी (Chickpeas),जौ का दलिया (Barley Porridge) , चौपड़ (Quadruped) ,विटामिन (vitamin) ,कैल्शियम (calcium) , बाजरे की कुट्टी, मूंगफली के पत्ते खाता है। सर्दियों में यह घोड़ा तिल का कुट्टा,अलसी (Flax Seed), तारामीरा,बाजरा आदि चीजें खाता है। इसकी ताकत देसी डाइट की वजह से आती है। पंजाब व हरियाणा के लोगों में मारवाड़ी नस्ल के घोड़े की बहुत डिमांड है।

Marwaadi Nasal Ghoda

महाराणा प्रताप के पास भी यही नस्ल थी

बताया जाता है कि राजा महाराजाओं के समय में भी इसी नस्ल के घोड़े का उपयोग किया जाता था। वहीं जानकारों की माने तो महाराणा प्रताप (Maharana Pratap) का घोड़ा चेतक (Chetak) भी मारवाड़ नस्ल का था। इन घोड़ों की लंबाई की बात करें तो इनकी लंबाई 130 से 140 सेंटीमीटर होती है। वही ऊंचाई 150 सेंटीमीटर से 160 सेंटीमीटर होती है। वहीं इस नस्ल के घोड़े 22 सेंटीमीटर तक चौड़े होते हैं। पुलिस भी अपनी प्रतियोगिताओं में इन्हीं का इस्तेमाल करती है। मारवाड़ी नस्ल के घोड़े को भारत में सर्वश्रेष्ठ (India’s Best Horse Breed) माना जाता है।

अम्बानी के पास भी यही नस्ल

देश के और एशिया के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी (Asia’s Richest Man Mukesh Ambani) के पास भी इसी नस्ल का घोड़ा है। मुकेश अंबानी के पास दाना नाम का मारवाड़ी नस्ल का घोड़ा है। जिस शमशेर घोड़े की हम बात कर रहे हैं वह मुकेश अंबानी के घोड़े दाना उर्फ अल्फा का ही बेटा है। मुकेश अंबानी ने पंजाब के एक व्यक्ति से दाना को खरीदा था। वही एक्सपर्ट (Expert) इस घोड़े के बारे में कहते हैं कि शुद्ध नस्ल (Pure Breed) के घोड़े हैं। वहीं इन घोड़ों में रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) अन्यो से अधिक होती है। इस नस्ल के घोड़े बीमार कम पड़ते है। यह घोड़े विपरीत परिस्थितियों में खुद को ढाल लेते हैं। मौसम का बदलाव भी इन पर कम असरदार होता है।

   
    >