Connect with us

अजमेर

राजस्थान के बेटे को मिला गूगल में 3.30 करोड़ का पैकेज, पूरे देश में नाम किया रोशन

Published

on

ajmer shridhar chandan story

अजमेर : अजमेर (Ajmer) के श्रीधर चंदन (Shridhar Chandan) ने अपने मां – बाप का नाम रोशन कर दिखाया है। बचपन से की गई मेहनत का आज उन्हें ये फल मिला है कि उन्हें गूगल में सीनियर ग्रुप इंजीनियर (Senior Group Engineer) पद पर पोस्टिंग मिली है और उनका पैकेज 3.30 करोड़ रुपये है। श्रीधर अभी न्यूयार्क (New York) की कपंनी ब्लूमबर्ग (Blumberg ) में बतौर इंजीनियर जॉब कर रहे है।

श्रीधर का जन्म 31 दिसंबर 1985 को अजमेर के जवाहर लाल नेहरु सरकारी अस्पताल में हुआ था। उन्होंने अजमेर के सेन्ट पॉल स्कूल से अपनी पढ़ाई की शुरुआत की थी। फिर आदर्श स्कूल से 12वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद AIE में उनका सिलेक्शन हो गया। श्रीधर पढ़ाई को लेकर इतना फोकस्ड थे की वो छुट्टियों में भी अपना पूरा वक्त अपनी पढ़ाई में लगाते थे।

श्रीधर के पिता का संघर्ष

हर मां – बाप अपने बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए संघर्ष करता है। लेकिन श्रीधर के पिता को अपने बचपन में भी काफी संघर्ष करना पड़ा। दरअसल, श्रीधर के पिता बताते है कि उनके पिता की मृत्यु तब हुई थी जब वो करीब डेढ़ साल के थे। दस से बारह साल की उम्र में उन्होंने लकड़ी व कोयले की टाल पर काम किया।

बाद में इंजीनियरिंग की और फिर गुजरात मोरवी में और उसके बाद सूरतगढ़ गंगानगर में नौकरी की। इसके बाद फिर साल 1976 में सिंचाई विभाग में बतौर इंजीनियर जॉब की। और श्रीधर के पिता को इस बात की खुशी है कि उनके बेटे ने उनकी मेहनत को सफल किया। श्रीधर के एक बड़े भाई भी है जिनका कहना है कि वो बचपन से ही पढ़ाई में काफी मेहनत करता था। और उनकी इस कामयाबी से वो बहुत खुश है।

श्रीधर की मां गीता चंदनानी भी बेटे की इस कामयाबी से बेहद खुश है। वो कहती है कि मेरा बेटा हमेशा से पढ़ाई लिखाई को लेकर इतना सख्त था कि अगर उसे संडे वाले दिन भी ना उठाओ तो मुझे डांट दिया करता था।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >