Connect with us

राजस्थान

राजस्थान की धाकड़ महिला बॉक्सर अंरुधति चौधरी जिसने भारत को दिलाया पदक, ओलंपिक कैंप में चयन

Published

on

राजस्थान के कोटा की रहने वाली बॉक्सर अंरुधति चौधरी का चयन ओलंपिक कैंप में हो गया है। अंरुधति अब भारत का नेतृत्व ओलंपिक्स गेम्स में करती हुई नजर आएंगी। अंरुधति ओलंपिक गेम के लिए 2 महीने तक चलने वाले कैंप में परीक्षण करेंगी। वह कई सीनियर खिलाड़ियों के साथ परीक्षण करती नजर आएंगी पुणे में 2 महीने तक यह कैंप चलेगा जिसके लिए अंरुधति चौधरी पुणे रवाना हो गई है।

उनके कोच अशोक गौतम ने बताया कि भारतीय बॉक्सिंग टीम में अंरुधति का चयन हो गया हैं। यूथ वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में सात खिलाड़ियों ने गोल्ड मेडल जीता था, उन सात खिलाड़ियों में से केवल अंरुधति का ही सिलेक्शन हुआ हैं। कोच अशोक गौतम का कहना है कि उन्हें उम्मीद है कि ओलंपिक गेम में भी अंरुधति अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगी। ओलंपिक गेम्स में भी वह भारत का नाम ऊंचा करेंगी।

अंरुधति के बारे में कोच ने यह भी बताया कि वह एक कड़ी मेहनत करने वाली खिलाड़ी हैं। अंरुधति अटैकिंग गेम खेलती है जिसकी मदद उसे कई बार मिल चुकी है। इसी वजह से वह नॉकआउट मुकाबलों में जीतती है। अपने शरीर पर अंरुधति ने बड़ी मेहनत की हैं वजन भी घटाया हैं। उम्मीद हैं वह अच्छा प्रदर्शन करेगी।

वही अंरुधति ने बताया कि वह साल 2024 में होने वाले ओलंपिक गेम्स में भारत का नाम ऊंचा करना चाहती हैं। वह भारत के लिए कई मेडल जीतना चाहती हैं। साथ ही उनका कहना है कि वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का परचम लहराना चाहती हैं। एशियाड गेम्स में भी बॉक्सिंग का दबदबा बनाना चाहती है, वह भारत के तिरंगे को आसमान की ऊंचाइयों तक ले जाना चाहती हैं।

अंरुधति के पिता सुरेश चौधरी ने बताया कि उनको इस खबर के आने के बाद बहुत लोग बधाइयां दे रहे हैं। गांव शहर से लोगों की बधाइयां आ रही है। साथ ही बॉक्सिंग फेडरेशन से भी उन्हें बधाई मिली। लोगों के अंदर खुशियों का माहौल है। लोग चाहते है, कि उनकी बेटी भारत का नाम रोशन करें। भारत के साथ कोटा शहर का भी नाम रोशन करें।

आपको बताए कि अंरुधति अब तक 20 से ज्यादा मेडल जीत चुकी हैं और वह एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की बॉक्सर मानी जाती है। उन्होंने वर्ल्ड युथ बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पॉलैंड की बॉक्सर को 5-0 से हराया था और स्वर्ण पदक जीता था। साथ ही अंरुधति राजस्थान की पहली महिला बॉक्सर बन गई हैं जिसने स्वर्ण पदक जीता हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >