बीकानेर पुलिस ने 35 लाख के 100 से भी ज्यादा फोन ढूंढ निकाले, छह I-Phone भी शामिल!

Bikaner News: बीकानेर पुलिस ने एक बड़ी कामयाबी पाई है। पुलिस ने सैंकड़ों गायब हुए फोन जब्त किए हैं, जिनकी कीमत करीब 35 लाख रुपए हैं। साइबर टीम ने पिछले 1 महीने में 100 से भी ज्यादा गुम हुए फोन खोज निकाले हैं। खास बात यह है कि इनमें कोई भी फोन (Bikaner Police Recovered 100 phones) चोरी का नहीं है।

एसपी योगेश यादव ने बताया कि सभी फोन कहीं न कहीं खो गए थे, इस बाबत पुलिस में रिपोर्ट भी दर्ज करवाई गई थी। ऐसे में इन्हें लगातार ट्रेस किया जा रहा था। यदि किसी जगह अज्ञात व्यक्ति को मोबाइल फोन मिलता है तो उसे पुलिस स्टेशन में जमा करवाना होता है, लेकिन अधिकतर (Bikaner Police Recovered 100 phones) केसों में लोग फोन को अपने पास ही रख लेते हैं, और कुछ समय बाद ऑन करते हैं। पुलिस ने कई महीनों तक इन मोबाइलों को अपने सर्विलांस में रखा।

police news

जब छह महीनों में वे फोन ऑन हुए और उनमें नई सिम लगी तो पुलिस को इसकी जानकारी पता चली। साइबर टीम ने ऐसे व्यक्ति को फोन कर कहा कि जो फोन वे यूज कर रहे हैं वो किसी और के हैं, इसे तुरंत थाने में जमा कराएं अन्यथा कार्रवाई होगी, और इस तरह बीकानेर के लगभग सभी थाना क्षेत्रों से पुलिस को खोए फोन बरामद हो हो गए।

35 लाख थी कीमत

जो मोबाइल पुलिस के पास पहुंचे हैं, उनमें 6 आईफोन (I Phone) भी हैं। जिनकी कीमत 50 हजार से 1 लाख रुपए हैं। इसके अलावा अधिकतर मोबाइल 20 हजार से 40 हजार रुपए की कीमत के हैं, सभी फोन की कीमत तकरीबन 35 लाख रुपए बताई जा रही है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित कुमार के मुताबिक, ये फोन ऑन हैं और अब इन्हें असली मालिक तक पहुंचाया जा रहा है।

कानूनी कार्रवाई नहीं की गई

पुलिस ने जिन लोगों से ये फोन बरामद किए हैं, उन पर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की गई है। पुलिस के मुताबिक, रास्ते में मिले मोबाइल को अपनी संपत्ति मानकर रखने वालों के विरुद्ध पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की गई है। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि इन मोबाइल से किसी तरह का कोई अपराध नहीं  है, ऐसे में कार्रवाई नहीं की जा रही है। यादव ने कहा कि किसी अन्य के फोन का प्रयोग करना कानूनी रूप से गलत और अपराध होता है।

चुटकियों में टूट जाते हैं पैटर्न

दरअसल, बीकानेर में ही कई लोग मोबाइल के पैटर्न महज 50 रुपए में तोड़ देते हैं। यादव बताते हैं कि गोपनीय नंबर बदलने और पासवर्ड तोड़ने वाले फोनों को भी पकड़ा जा सकता है, इस संबंध में भी कार्रवाई की जा रही है। वहीं, पुलिस के इस मोबाइल खोजी अभियान में हेड कांस्टेबल दीपक यादव, दिलीप सिंह, कांस्टेबल देवेंद्र सिंह, सूर्य प्रकाश, सरजीत, श्रीराम, राजुराम, बाबूलाल, महेंद्र, गोविन्द शामिल रहे।

यह भी पढ़ें-  बीकानेर की बेटियों ने RJS एग्जाम में दिखाया अपनी मेहनत का दमखम- पाई छप्पड़ फाड़ सफलता!

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि