पालनहार योजना में नवीनीकरण करवाएं लाभार्थी ~ Palanhar Yojana Rajasthan in Hindi

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक अरविंद ओला ने कहा कि पालनहार योजना में अध्ययनरत प्रमाण पत्र अपलोड कर नवीनीकरण नहीं करवाने पर योजना अंतर्गत देय सहायता रुक सकती है।

उन्होंने को गुरूवार को बताया कि योजना में हर वर्ष माह जुलाई में बच्चों का नवीनीकरण (अध्ययनरत प्रमाण पत्र अपलोड) करवाना होता है। जिले में शैक्षणिक वर्ष 2021-22 के कुल 1034 व शैक्षणिक सत्र 2022-23 के कुल 9943 बच्चे पालनहार नवीनीकरण से शेष हैं। शैक्षणिक सत्र 2021-22 व 2022-23 के नवीनीकरण से शेष ब्लॉकवाईज बच्चे क्रमशः चूरू में 71 व 860, राजगढ में 224 व 2174, तारानगर में 116 व 1061, सरदारशहर में 137 व 1682, रतनगढ़ में 216 व 1397, सुजानगढ़ में 116 व 1539, बीदासर 154 व 1230 हैं।

उन्होंने कहा है कि नवीनीकरण से शेष संबंधित सभी पालनहार अपने बच्चों का अध्ययनरत प्रमाण पत्र विद्यालय से प्राप्त कर ई-मित्र या संबंधित ब्लॉक कार्यालय से सम्पर्क कर अपलोड कराएं ताकि योजना का निरन्तर लाभ मिल सके। समस्त मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी व बाल विकास परियोजना अधिकारी भी नवीनीकरण से शेष पालनहार बच्चों का निरन्तर अध्ययनरत प्रमाण पत्र संबंधित सरकारी, निजी विद्यालयों व आंगनबाड़ी से जारी करवाने की कार्यवाही सुनिश्चित कराएं।

उन्होंने बताया कि पालनहार नवीनीकरण के समय अध्ययन प्रमाण पत्र अपलोड करवाने के दौरान ज्यादातर ई-मित्र द्वारा आवेदन को अंतिम रूप से सबमिट नहीं किया जाता, जिसके अभाव में अध्ययन प्रमाण पत्र अपलोड करने के बावजूद इस योजना का लाभ संबंधित लाभार्थी को नहीं मिल पाता। अतः नवीनीकरण के दस्तावेज ई-मित्र से अपलोड करते समय यह सुनिश्चित कर लें कि अध्ययन प्रमाण पत्र अपलोड करने के उपरान्त ई-मित्र द्वारा आपका आवेदन अंतिम रूप से सबमिट कर दिया गया है। इसकी पुष्टि हेतु संबंधित ब्लॉक कार्यालय में भी सम्पर्क किया जा सकता है

रिपोर्ट मनोज शर्मा

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि