प्रथम प्रयास में आरजेएस बनीं चूरू की शिखा शर्मा, कड़ी मेहनत से मिला मुकाम ~ Churu Shikha Sharma

Churu Shikha Sharma : विधि सेवाओं के क्षेत्र में चूरू के युवाओं के चयन का सिलसिला बदस्तूर जारी है। राजस्थान हाईकोर्ट की ओर से आयोजित आरजेएस 2021 परीक्षा के मंगलवार को घोषित हुए परिणाम के अनुसार चूरू की ओम काॅलोेनी निवासी शिखा शर्मा का चयन राजस्थान न्यायिक सेवा के लिए हुआ है।

उल्लेखनीय है कि ओम काॅलोनी निवासी सत्येंद्र शर्मा एवं पुष्पा शर्मा की 23 वर्षीय बेटी शिखा का चयन प्रथम प्रयास में हुआ है। सत्येंद्र शर्मा शिक्षा विभाग में जांदवा राउमावि में वरिष्ठ सहायक पद पर कार्यरत हैं तथा माता पुष्पा शर्मा सोमासी विद्यालय में शिक्षक हैं।

RJS शिखा ने बताया कि – “यदि आदमी मन में धार ले तो फिर सफलता दूर नहीं”

शिखा ने अपनी सफलता का श्रेय चूरू लोहिया काॅलेज में विधि प्रवक्ता रहे स्व. महावीर तथा परिवार जनों मिली प्रेरणा और न्यायिक मजिस्ट्रेट चंद्रशेखर पारीक व वरिष्ठ विधि अधिकारी महेंद्र सैनी से मिले मार्गदर्शन को दिया है। शिखा ने बताया कि पारीक व सैनी के मार्गदर्शन में कड़ी मेहनत का परिणाम मिला। शिखा ने बताया कि वर्ष 2020 में चूरू के राजकीय विधि महाविद्यालय से एलएलबी की थी और शुरू से ही मन में ठान रखा था कि इस क्षेत्रा में अपना कैरियर बनाएगी लेकिन इतनी जल्दी सफलता मिल जाएगी, शुरू में ऐसा विश्वास नहीं था। ऐसे में विधि सत्संग संस्था से जुड़ने पर उसका आत्मविश्वास बहुत बढ़ा और चंद्रशेखर पारीक व महेंद्र सैनी ने सदैव सकारात्मक मार्गदर्शन दिया। फिर भी परिणाम की चिंता नहीं थी।

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले युवाओं को अपनी रूचि के क्षेत्र में कड़ी मेहनत करनी चाहिए। मेहनत करने वालों की कभी हार नहीं होती, एक न एक दिन मेहनत करने वाले अपना सपना पूरा कर ही लेते हैं। गौरतलब है कि शिक्षा ने अपनी परीक्षा अंग्रेजी माध्यम से दी थी।

रिपोर्ट मनोज शर्मा

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि