Connect with us

राजस्थान

राजस्थान: किसानों के लिए चलाई जा रहीं वो 5 योजनाएं जो कृषक को कराएंगी लाखों का फायदा!

Published

on

Farmers Best Benefit Scheme

Farmers Best Benefit Scheme: इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) द्वारा जारी उन योजनाओं को बताने जा रहे हैं, जो विशेष रूप से किसानों के लिए चलाई जा रही हैं। जहां केंद्र सरकार लगातार किसानों के फायदों और सुविधाओं के लिए प्रयासरत है, वहीं राजस्थान सरकार भी पीछे नहीं है। आइये, जानते हैं उन 5 योजनाओं के बारे में जो विशेष रूप से किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए चलाई जा रही हैं और जो किसानों को सहूलियत व सुविधा देते हुए तगड़ा फायदा पहुंचाती है।

1. कृषि यंत्र अनुदान वितरण

इस योजना के अंतर्गत सरकार किसानों को कृषि यंत्र जैसे- ट्रॉली, थ्रेसर, ट्रैक्टर इत्यादि खरीद सकते हैं। राजस्थान सरकार इसके लिए किसान को 40-50 प्रतिशत की सब्सिडी प्राप्त करवाएगी।

  • पात्रता- किसान के पास खुद की जमीन होनी चाहिए। इसके साथ ही किसान का नाम राजस्व रिकॉर्ड में होना आवश्यक है। योजना में अनुसूचित जाति व जनजाति (SC/ST), बीपीएल इत्यादि वर्ग को प्राथमिकता दी जाएगी।
  • आवेदन प्रक्रिया- किसान इस योजना का फायदा उठाने के लिए ई-मित्र की मदद ले सकता है तथा ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। अनुदान का भुगतान बैंक खाते में किया जाएगा।

2. किसान डिग्गी के लिए अनुदान

राजस्थान किसान अगर डिग्गी बनवाने का प्लान कर रही है तो बेफिक्र रहें सरकार आपका पूरा साथ देगी। अगर किसान 4 लाख लीटर पानी की कैपेसिटी वाली डिग्गी बनवाता है तो सरकार उसे 50 फीसदी से लेकर 2 लाख रुपए तक की सब्सिडी प्राप्त करवाएगी।

  • पात्रता- आवेदन कर रहे किसान के पास कम से कम 1 हैक्टेयर की सिंचित भूमि होनी चाहिए।
  • आवेदन प्रक्रिया- कृषक इस योजना का फायदा उठाने के लिए ई-मित्र की सहायता ले सकता है तथा ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। डिग्गी निर्माण का कार्य पूरा होने के 30 दिन के भीतर भुगतान होगा।

3. जल हौज निर्माण योजना

राजस्थान में जिन इलाकों में (Farmers Best Benefit Scheme) नहर या नदियां नही जातीं अथवा जिन इलाकों में कुएं बहुत गहरे होते हैं और जहां बिजली की सप्लाई की समस्या ज्यादा रहती है। ऐसे में वे किसान जल हौज का निर्माण करवा सकते हैं। एक लाख से ज्यादा लीटर जल भराव क्षमता वाले हौज के निर्माण के लिए सरकार 50 प्रतिशत अनुदान प्राप्त कराएगी या फिर किसान की 75 हजार रुपए खाते की मदद करेगी।

4. फसल बीमा योजना

Farmers Best Benefit Scheme

किसान जब अधिक निराश होते हैं, जब उनकी फसल खराब हो जाती हैं। बेमौसम बरसात, आगजनी तो कभी ओला पड़ने से किसानों की मेहनत पल भर में छू मंतर और जाती है। फसल नष्ट होने से  कुछ किसान आत्मह’त्या भी कर लेते हैं। ऐसी घटनाओं के रोकथाम के लिए सरकार बीमा की योजना लेकर आई है। इसके जरिए किसान अपनी फसल का बीमा करवा सकता है। हालांकि, कृषक को बीमा का कुछ प्रीमियम भी भरना होगा। खरीफ फसल के लिए 2 फीसदी तो रबी की फसल के लिए डेढ़ फीसदी तक का प्रीमियम भरना होगा। वहीं, व्यवसायी और उद्यानिकी फसलों के लिए 5 फीसदी प्रीमियम देना होगा।

  • आवेदन प्रक्रिया- किसान ई-मित्र के जरिए आवेदन कर सकता है

5. सिंचाई पाईप लाइन योजना

सिंचाई पाईप लाइन योजना के तहत किसानों को पाइप के लिए सब्सिडी मिलती है। P.V.C/H.D.P.E पाईप पर किसानों को लागत पर 50 रुपए प्रति मीटर के हिसाब से या लागत का 50 फीसदी सब्सिडी मिलता है। वहीं H.D.P.E पाईप 20 रुपए प्रति मीटर की सब्सिडी मिलेगी। वहीं, H.D.P.E, LTD- ले-फ्लेट ट्यूब पाईप खरीदने पर सरकार की तरफ से ज्यादा से ज्यादा 15 हजार रुपए की आर्थिक सहायता प्राप्त करवाई जाएगी।

राजस्थान फसल सुरक्षा योजना से मिलेंगे किसानों को 40,000/- आवेदन के लिए ये डॉक्यूमेंट्स जरूरी!

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >