Connect with us

हनुमानगढ़

राजस्थान सरकार का क्रूर चेहरा, सड़क के लिए रोते बिलखते किसानों की खड़ी फसल पर चलवाया बुलडोजर

Published

on

भारत माला परियोजना के तहत बनने वाली 6 लेन की सड़क पर मुआवजे की मांग को लेकर राजस्थान के किसान पिछले 2 सालों से लगातार आंदोलन कर रहे हैं। बता दें कि इस परियोजना में राजस्थान के हनुमानगढ़ से भी 61 किलोमीटर लंबा एक सिक्स लेन हाइवे निकलना है।

ताजा मामले के मुताबिक हाल में हनुमानगढ़ के पीलीबंगा में भूमि अधिग्रहण के लिए प्रशासन ने किसानों की खड़ी फसल पर जेसीबी चलवाने का मामला सामने आया है जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

वीडियो में कई किसान एसडीएम से हाथ जोड़कर उनकी फसल बर्बाद नहीं करने की लगातार गुहार लगा रहे हैं लेकिन किसानों की कोई नहीं सुन रहा है। वहीं कुछ किसानों का कहना है कि उन्होंने अक्टूबर तक भूमि अधिग्रहण नहीं करने का समय मांगा था ताकि वह फसलों की कटाई कर सके।

इधर एसडीएम का कहना है कि वह 3 साल से इंतजार कर रहे हैं, अब उन्हें सुरक्षाबल लगाकर अधिग्रहण करना पड़ेगा।  इस दौरान किसान संघर्ष समिति के प्रवक्ता सुरेन्द्र शर्मा ने बताया कि मुआवजा राशि बढ़ाने के लिए किसान आंदोलन कर रहे हैं और प्रशासन हमारे साथ अन्याय कर रहा है।

मालूम जानकारी के अनुसार 2019 में भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई के बाद से अब तक किसान पांच फसलों की कटाई कर चुके हैं।

किसानों क्या चाहते हैं?

भारतमाला परियोजना के तहत 2019 से बन रहे 1256 किलोमीटर का यह 6 लाइन हाइवे बनने के बाद जामनगर से अमृतसर का सफर 26 घंटे की बजाय 13 घंटे में पूरा किया जा सकता है। वहीं किसानों का लंबे समय से यही आरोप है कि उनकी जमीनों को जबरदस्ती अधिग्रहित कर बाजार भाव के 15 लाख के बजाय महज तीन लाख रुपये दिए जा रहे हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

   
    >