दोनों ओर से बन चुका है सतीपुरा ओवरब्रिज- 80 फीसद काम हुआ पूरा- दिसंबर तक बन कर हो जाएगा तैयार!

Hanumangarh News: हनुमानगढ़ की जनता को फाइनली एक अच्छी खबर मिलने वाली है। सतीपुरा फाटक पर बन रहे ओवरब्रिज का काम लगभग पूरा होने वाला है। पीडब्ल्यूडी (PWD) की ओर से रेलवे लाइन के पास का काम शुरू कर दिया गया है। मंगलवार को सतीपुरा फाटक (Satipura Fatak) बंद कर दिया गया है तथा रूट डायवर्ट कर दिया गया है। यातायात विभाग की तरफ से ग्रेफ के पास, नवां फाटक और चूना फाटक के पास पुलिसकर्मी की (Satipura Over bridge Complete) ड्यूटी लगाई गई है ताकि ट्रैफिक को भली प्रकार संचालित किया जा सके तथा डिवर्जन की जानकारी दे सके।

Hanumangarh News

अधिकारियों के अनुसार, यहां 75 से 80  फीसदी काम पूरा हो चुका है। बाकी बचा काम दिसंबर तक पूरा हो जाने की उम्मीद है, निर्माण एजेंसी को साल के अंतिम महीने तक का वक्त दिया गया है। गौरतलब है कि सतीपुरा ओवरब्रिज (Satipura Overbridge) का काम 20 महीने में पूरा होना था, इसकी शुरुआत 28 सितंबर, 2018 को की गई थी, मगर अब आने वाली सितंबर को निर्माण कार्य को पूरे 4 साल हो जाएंगे।

ओवरब्रिज का निर्माण करने वाली कंपनी पर पीडब्ल्यूडी (PWD) की तरफ से 20 लाख रुपए की पैनल्टी लगाकर अगस्त, 2022 तक इसकी अवधि बढ़ाई गई थी, लेकिन अगस्त तक भी यह निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ जिसके बाद इसके निर्माण की समयावधि दिसंबर तक कर दी गई है। विचारणीय है कि जंक्शन में मौजूद सतीपुरा फाटक पर 58 करोड़ की लागत से ओवरब्रिज का निर्माण किया जा रहा है।

stop

सतीपुरा फाटक पर रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण 58.34 करोड़ रुपए की लागत से प्रस्तावित होना था। पीडब्ल्यूडी की ओर से तकरीबन 30 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण 17 सितंबर, 2018 से शुरू हुआ, जिसका शिलान्यास पूर्व जलसंसाधन मंत्री डॉ, रामप्रताप (RamPratap) ने दिनांक 28 सिंतबर, 2018 को किया था। पीडब्ल्यूडी के मुताबिक, ओवरब्रिज का निर्माण संगरिया मार्ग से चूना फाटक  (Sangariya Marg to Chuna Fatak)मार्ग तथा सतीपुरा बाइपास से अबोहर मार्ग तक होना है।

ये हैं खासियत!

ओवरब्रिज की लंबाई दोनों ओर से 800 मीटर रहेगी।ओवरब्रिज (Satipura Over bridge Complete) की चौड़ाई 9.5 मीटर होगी। ओवरब्रिज के नीचे साढ़े पांच मीटर चौड़ाई की सर्विस लाइन होगी। ओवरब्रिज के नीचे की सड़क पर यातायात चालू रहेगा। ओवरब्रिज कई बार विवाद का रूप भी ले चुका है सतीपुरा फाटक पर प्लस निशान की तरह ओवरब्रिज होगा। ओवरब्रिज पर बठिंडा की तर्ज पर चौराहा भी होगा। हालांकि, इसके डिजाइन को लेकर कोर्ट में केस चल रहा है। बता दें, रेलवे की ओर से दोनों ओर का रास्ता बन चुका है, अब बीच का हिस्सा रह गया है, जिसका काम अब जल्द ही पूरा होगा, दिसंबर तक डेडलाइन है।

overbridge

वहीं, उद्युत निगम कार्यालय के पास अंडरपास का निर्माण भी लगभग पूरा होने वाला है। यह अंडरपास रेलवे लाइन सी-66 पर होगा, जो चाय बाय ढाई का होगा। जंक्शन स्थित विद्युत निगम कार्यालय के पास सौ फीट मार्ग के सामने इसका निर्माण किया जा रहा है। इससे सौ फीट मार्ग के लोगों को संगरिया मार्ग पर आवागमन के लिए सतीपुरा ओवरब्रिज या फिर चूना फाटक से नहीं जाना पड़ेगा। बल्कि अंडरपास से सीधा संगरिया मार्ग से होकर गुजरा जा सकेगा। इससे समय और ईंधन दोनों बचेगा।

ओवरब्रिज को लेकर पीडब्ल्यूडी अधिशासी (Satipura Over bridge Complete)अभियंता कप्तान सिंह कहते हैं कि सतीपुरा फाटक बंद कर दिया गया है। इसका 75 से 50 फीसदी काम कंप्लीट हो चुका है। दिसंबर तक ओवरब्रिज का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा।

यह भी पढ़ें- हनुमानगढ़ जिले में लम्पी बीमारी से 400 गायों की मौ’त- पशुपालक डॉक्टरों का यह उपचार जरूर अपनाएं?

 

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि