Connect with us

जयपुर

100 माॅक टेस्ट देकर मेहनत कर,AIR 30 हासिल करने वाले Divyanshu Chaudhary की कहानी

Published

on

ias divyanshu

यूपीएससी को भारत की सबसे कठिन परीक्षा में से एक माना जाता है। इस परीक्षा में सफलता हासिल करने के लिए हर साल लाखों बच्चे प्रयास करते हैं। साल 2020 के सिविल सेवा यूपीएससी (UPSC Result 2020) के हाल ही में नतीजे जारी किए गए और परीक्षा में ऑल इंडिया में 30वी (AIR 30 Rank) रैंक हासिल करने वाले दिव्यांशु चौधरी (Divyanshu Chaudhary) की कहानी आज हम आपको बताएंगे। इंजीनियरिंग करके बैंक में नौकरी करने वाले दिव्यांशु ने यूपीएससी की तैयारी की और अपने दूसरे प्रयास में 30वी रैंक हासिल करके सफलता मुकाम पर हासिल किया है।

राजस्थान के है दिव्यांशु

दिव्यांशु की बात करें तो वह राजस्थान के जयपुर (Jaipur) के रहने वाले हैं। 12वी कक्षा के बाद उन्होंने बीटेक (Btech) की पढ़ाई की और उसके बाद उन्होंने आईआईएम (IIM) से एमबीए (MBA) करने का फैसला लिया। एमबीए पूरी हो जाने के बाद दिव्यांशु एक बैंक में नौकरी लगे। 1 साल तक बैंक में नौकरी करने के बाद उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करने का सोचा और तैयारी के लिए मेहनत करना शुरू कर दिया। ऑप्शनल विषय में गणित (Optional Math) चुनने वाले दिव्यांशु चौधरी अपने पहले प्रयास में सफल हो गए। लेकिन अपने दूसरे प्रयास में उन्होंने सफलता का एक बहुत बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है।

ias divyanshu chaudhary

100 मॉक टेस्ट दिए

दिव्यांशु चौधरी के पिता डॉ प्रभु दयाल चौधरी राजकीय पीजी महाविद्यालय दौसा में प्राचार्य (Principal) है। उनकी मां संतोष गढ़वाल राजकीय महिला महाविद्यालय में प्राचार्य हैं। दिव्यांशु चौधरी अपनी तैयारी के पीछे कहते हैं कि उन्होंने कोचिंग के मेटीरियल (Coaching Material) से ज्यादा इंटरनेट पर उपलब्ध संसाधनों का प्रयोग किया। उन्होंने तैयारी के साथ रीविजन (Rivision) पर ज्यादा जोर दिया। दिव्यांशु चौधरी कहते हैं कि उन्होंने 100 से ज्यादा मॉक टेस्ट (Mock Test) सॉल्व किए और कड़ी मेहनत की। दिव्यांशु कहते हैं कि प्री परीक्षा (Pre Exam) पर ज्यादा फोकस करना चाहिए अगर पहले स्टेज से आप अपना कॉन्फिडेंस बना लेंगे तो वह अंत तक बना रहता है।

सलाह

तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए दिव्यांशु चौधरी सलाह देते हुए कहते हैं कि अगर आपने यूपीएससी करने का फैसला कर लिया है तो आप को डेडिकेट होकर कड़ी मेहनत करनी जरूरी है। ऑप्शनल विषय में उसी विषय को चुने जिसमे आपकी अच्छी पकड़ हो। ऑप्शनल विषय का चुनाव सोच समझ कर करना चाहिए। दिव्यांशु कहते हैं कि इंटरनेट (Internet Resources)  पर काफी मददगार चीजें मौजूद है। अपने हिसाब से उन्हें पूरी तरीके से इस्तेमाल करना चाहिए। यूपीएससी के लिए आंसर का रिवीजन आंसर राइटिंग प्रैक्टिस और सकारात्मक सोच (Positive Attitude) होना जरूरी है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

   
    >