मौ’त ने ममता के आगे टेक दिए घुटने, पढ़िए इन मां-बेटे की इमोशनल स्टोरी

Jaipur: मां और बच्चे का प्यार अटूट होता है, मां अपने बच्चे के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार रहती है। आज हम आपको ऐसी ही एक मां की Fमोशनल स्टोरी बताएंगे जिसकी ममता के आगे मौ’त ने भी घुटने टेक दिए…

दरअसल, बुजुर्ग मां की सेवा करने वाला बेटा अचानक काल कवलित हुआ तो कुछ ही देर में उस मां ने भी अपने प्राण त्याग दिए। बेटे का शव को लेकर अंतिम संस्कार करने के लिए ग्रामीण शमशान घाट पहुंचे ही थे कि तभी मां की मृत्यु का समाचार आ पहुंचा। जिसके बाद मां का शव भी वहां पर लाया गया और दोनों को ग्रामीणों ने भरे मन से अंतिम विदाई दी। पूरे गांव में शोक के बीच एक यही चर्चा थी कि मां की ममता फिर से जीत गई। दरअसल यह घटना जयपुर (Jaipur) ग्रामीण के चाकसू क्षेत्र की है।

75 साल का बेटा और 95 साल की थीं मां

75 साल के लक्ष्मीनारायण जाट की मौ’त होने के कुछ ही देर में 95 साल की मां गुल्ली देवी ने भी अपने प्राण त्याग दिए। ग्रामीणों का कहना था कि गुल्ली देवी वैसे तो लक्ष्मीनारायण की चाची थी लेकिन लक्ष्मी के जन्म के कुछ दिनों बाद ही गुल्ली देवी ने उन्हें गोद ले लिया था। लक्ष्मीनारायण भी गुल्ली देवी की मां की तरह सेवा करते थे। अपने हाथ से खाना खिलाते थे (Jaipur ) और अपने हाथ से ही नित्यकर्म कराते थे। कुछ समय से लक्ष्मीनारायण कुछ बीमार थे और सोमवार को उनकी मौत हो गई। साथ ही मां भी चल बसी। ग्रामीणों ने धार्मिक रीति रिवाजों के साथ मां और बेटे को एक ही चिता पर विदा किया।

पिता बना दरिंदा, 16 साल की बेटी पर डाली बुरी नजर, अकेले देखकर किया रे’प का प्रयास

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि