Jaipur Highway News: 2 साल में 75 हादसे, हुई 60 मौ’तें! मगर अब लगेगी हादसों पर लगाम!

Jaipur Highway News: जयपुर हाईवे पर श्रीडूंगरगढ़ (Shri Dungargarh) के बीच हादसे न हो, इसके लिए खास तैयारी की जा रही है। पुलिस इस रोड पर ब्लैक स्पॉट पर नजर रखने के साथ-साथ शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले लोगों का लाइसेंस सस्पेंड करेगी, साथ ही वाहन भी बंद किया जाएगा। हल्दीराम प्याऊ से कीतासर तक 12 अवैध कट बंद किए जाएंगे। पशु हादसे का शिकार न हो तथा उनके कारण कोई हादसे हो इसके लिए उन्हें रिफ्लेक्टर बेल्ट पहनाने के साथ-साथ उनके सींगो पर पेंट किया जाएगा। पायलट प्रोजेक्ट के अंतर्गत हादसे कम करने के लिए सबसे पहले इस रोड पर काम करवाया जाएगा, बाद में दूसरे हाईवे पर काम होगा।

Jaipur Highway News

एसपी योगेश यादव के निर्देश पर श्रीडूंगरगढ़ (Dungargarh) सर्कल ऑफिसर दिनेश परिहाल, एसएचओ अशोक बिश्नोई, सेरूणा एसएचओ रामचंद्र, नापासर एसएचओ जगदीश पांडर, जेएनवीसी एसचएचओ महावीर प्रसाद, ट्रैफिक थाने के सर्कल ऑफिसर अजय सिंह तथा टीआई रमेश सर्वटा ने यह योजना तैयार की है ताकि दुर्घटनाओं को रोका जा सके। इसके साथ ही यह तकनीक भी होगी, जिसके द्वारा दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को डिस्पले किया जा सके। इसमें परिवहन विभाग का सहयोग भी लिया जाएगा। भामाशाह तथा दानदाताओं के सहयोग से साइन बोर्ड, स्पीड लिमिट बोर्ड तथा कैट आई लगाई जाएगी।

नौरंगदेसर तथा सेरूणा थाने के नजदीक ब्लैक स्पॉट पर (Jaipur Highway News) होने वाले हादसों को रोकने तथा कम करने के लिए ट्रैफिक पुलिस, इंटरसेप्टर, संबंधित थाना पुलिस तथा हाईवे मोबाइल मौके पर मौजूद रहेंगी। लखासर टोल पर भी चेकिंग स्टाफ मौजूद रहेगा। शराब पीकर वाहन चलान वालों तथा गाड़ी चलाते वक्त फोन पर बात करने वालों तथा ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी।

दुर्घटनाओं की बड़ी वजहें

जयपुर रोड पर कीतासर तक लगभग 12 अवैध कट हैं, जिनसे दुर्घटनाओं का स्तर चरम पर पहुंच गया है, पिछले साल जनवरी, 2021 से दिसंबर तक इस रोड पर 30 दुर्घटनाएं हुई हैं। पुलिस द्वारा अब इन अवैध कट्स को बंद करवाया जाएगा। यह विचारणीय है कि पिछले साल इस रोड पर हादसों के चलते 25 लोगों की जान गई थी, जबकि 30 घायल हुए। वहीं इस साल यानी जनवरी, 2022 से लेकर अब तक (18 सिंतबर, 2022) सड़क पर 45 दुर्घटनाएं हुई हैं, जिनमें 45 व्यक्ति घायल हुए हैं, जबकि 35 लोगों की जान गई है। ऐसे में अब हाइवे पर बाइक लेकर चलने वालों को हेलमेट भी बांट जाएंगे। इसके साथ ही टोल प्लाजा पर महीने में एक बार नेत्र जांच शिविर लगाकर ड्राइवर्स की आंखों का चेकअप भी किया जाएगा।

इसके साथ ही पेट्रोल पंप और होटल-ढाबों वालों से स्थान पर कैमरा लगवाने का आग्रह भी किया जाएगा ताकि आसपास गुजरने वाले वाहनों की फुटेज देखी जा सके। हाईवे पर जीप की स्पीड 80 किलोमीटर तो बस-ट्रक की स्पीड 60 किलोमीटर प्रति घंटा तय की गई है। एएसपी सिटी अमित कुमार (Jaipur Highway News) बताते हैं कि हाइवे पर काम पूरा होने के बाद जैसलमेर, नोखा तथा श्रीगंगानगर रोड पर हादसों को रोकने के लिए काम शुरू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- बेहद रोचक रहा है राजस्थान में चीतों का इतिहास, जयपुर का यह मोहल्ला है इकलौता गवाह

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि