जैसलमेर में लंपी वायरस संक्रमण के प्रकोप से चिंता में पशुपालक, गायों की मृत्यु ने बढ़ाई टेंशन

Jaisalmer News : राजस्थान (Rajasthan) के विभिन्न जिलों में लंपी रोग (Lumpy Disease) से पशुओं की लगातार मौत हो रही है। लगातार गायों की मौत से पशुपालकों में बेचैनी बढ़ गई है। जैसलमेर (Jaisalmer News) इलाके में लंपी रोग से पशुओं की लगातार मौत हो रही है और पशुपालन विभाग के इंतजाम पर अब सवाल उठ उठ रहे हैं। प्रशासन के तरफ से इसके रोकथाम और अन्य पहलुओं को देखते हुए टीम का गठन किया गया है, लेकिन यह किसी काम का नहीं है। इन सब के बीच पशुपालकों की नींद उड़ी हुई है । खेताखोई, धोलिया, लाठी, भादरिया, लोहारकी आदि गांवों में पशुपालकों की संख्या काफी है। पिछले दिनों में खेताखोई में काफी गायों की मौत हो चुकी है। इससे इलाके के लोगों में काफी चिंता बढ़ गई है।

जिला कलक्टर के निर्देश पर पशुपालन विभाग सक्रिय

जोधपुर जिला कलेक्टर टीना डाबी के निर्देश पर पशुपालन विभाग लगातार इस रोग को लेकर सर्वे कर रहा है। कलेक्टर के निर्देश पर शुक्रवार को पशु चिकित्सा अधिकारी डाॅक्टर एस एस तंवर ने कस्बे की चैन पब्लिक गोशाला व रामदेवरा गांव के पास स्थित बाबा रामदेव नंदीशाला का निरिक्षण कर गोवंश में फैले लंपी रोग का सर्वे किया। सर्वे के बाद पता चला कि एक हजार संक्रमित गायों में से 72 गायें ठीक हो गई है । जबकि साठ गायों की मौत हो चुकी है।

इस दौरान वहां नि:शुल्क दवाओं का वितरण किया गया और लंपी रोग से पशुओं को बचाने के लिए जागरूक किया गया। इसी तरह की हालत चैन पब्लिक गोशाला में है। यहां भी तीन सौ पशुओं में से 14 संक्रमण के शिकार है। प्रदेश में लंपी रोग से पशुओं की लगातार मौत हो रही है। पशुपालन विभाग के इंतजाम पर अब सवाल उठ रहे हैं। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि अभी तक इसके बचाव के टीके नहीं आए हैं।

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि