Connect with us

जैसलमेर

गाय की बछिया की भक्ति देख सब रह गए हैरान, बाबा के दर्शन के लिए 550 किमी तक की पैदल यात्रा

Published

on

ramdevra-baba-ramdev-ji

आम इंसान तो भगवान की भक्ति में हर वक्त डूबा रहता है और ऐसे कई किस्से भी सुनने को मिले जहां इंसान ने अपनी अस्था के हजारों प्रमाण दिए है, लेकिन पहली बार एक ऐसा किस्सा सामने आया है, जिसे देख लोग हैरान रह गए है,

क्योंकि इस बार अपनी भक्ति और आस्था को किसी इंसान ने नहीं बल्कि एक गाय की बछिया ने सिद्ध किया है। दरअसल, एक गाय की बछिया हरियाणा (Haryana) से पैदल 550 किमी तक का सफर तय कर बाबा रामदेव (Baba Ramdev) की समाधि के दर्शन करने पहुंची।

550 किमी तक का सफर किया तय

रामदेव बाबा की समाधि के दर्शन के लिए पैदल संघ के प्रमुख मोहन लाल सैनी ने बताया कि जब श्रद्धालुओं का संघ रामदेवरा (Ramdevra) के लिए जब रवाना हुआ तो इस दौरान एक गाय की बछिया भी संघ के साथ चलने लगी हालांकि पहले बछिया को दुर हटाया गया लेकिन वो नहीं हटी उसके बाद इस संघ के लोगो ने इसे अपने साथ शामिल कर लिया और इस बछिया का नामकरण कर इसका नाम गोतमी रखा। संघ के लोगों द्वारा इस बछिया को समय – समय पर चारा और पानी भी दिया गया।

बछिया ने रामदेव बाबा की समाधि के किए दर्शन

यात्रा पूरी करने के बाद गुरुवार को संघ के लोगों के साथ बछिया रामदेवरा पहुंची। जब मंदिर के पुजारियों को यह जानकारी दी गई की कैसे बछिया ने दर्शन के लिए इतना लंबा सफर तय किया। तब पुजारियों ने बछिया को मंदिर की लाइन में लगा कर दर्शन करने की इजाज़त दी और बछिया को फूलों की माला भी पहनाई।

गोतमी को देखने के लिए उमड़े लोग

जैसे ही बछिया के इतनी दूर से पैदल चलकर आने की खबर इलाके में पता चली वैसे ही लोग गोतमी को देखने के लिए जमा हो गए। हालांकि इस बात का पता नहीं चल सका की इस बछिया का मालिक कौन है इसलिए संघ के लोग इसे वापिस अपने साथ ले गए।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >