Connect with us

झुंझुनू

झुंझुनू में दूल्हन के लिए बुक किया था हेलीकॉप्टर लेकिन कंपनी ने ऐन वक्त पर दे दिया लॉलीपॉप!

Published

on

Jhunjhunu

Jhunjhunu: राजस्थान (Rajasthan) के झुंझुनू में एक दुल्हन की शादी के बाद उसकी विदाई हेलीकॉप्टर के जरिए होनी थी, लेकिन ऐन मौके पर हेलीकॉप्टर में कुछ तकनीकी खराबी आ गई जिसके चलते कंपनी ने हेलिकॉप्टर भेजने से मना कर दिया । हालांकि परिवार ने हेलीकॉप्टर की बुकिंग के लिए एडवांस रुपए भी दिए थे, इसके साथ ही हेलीपैड बनाने और अन्य व्यवस्थाएं कराने के लिए 3 लाख रुपए अतिरिक्त खर्च किए थे। वहीं जब परिवार वालों को हेलीकॉप्टर में तकनीकी खामी के बारे में पता चला तब परिवार ने जैसे-तैसे दूसरा माध्यम ढूंढा और 60 हजार रुपए में दिल्ली से एक बीएमडब्ल्यू (BMW) कार बुक कराई गई और उसी के जरिए दूल्हन की विदाई हुई। वहीं परिवार वालों ने इस मामले में मुकदमा दर्ज करवा दिया है।

चूरू (Churu) जिले के सुजानगढ़ (Sujagarh) में शैक्षणिक संस्थान चलाने वाले झुंझुनू जिले के मंडावा तहसील में श्योपुरा तन तेतरा निवासी नरेंद्र बराला के बेटे निखिल की शादी गई 11 मई को सुजानगढ़ निवासी कैलाश महण की बेटी शिखा के साथ तय हुई थी। इस शादी को यादगार और सबसे अलग बनाने के लिए नरेंद्र बराला की मां शारदा, पति श्रीराम और पत्नी सरिता नई-नवेली दुल्हन को पहली बार हेलीकॉप्टर से ससुराल लाना चाहते थे। इसके बाद दिनांक 12 मई की सुबह के लिए जयपुर की एक कंपनी द्वारा हेलीकॉप्टर की बुकिंग की गई थी। इसके लिए एडवांस रुपए भी दिए थे मगर ऐन वक्त पर तकनीकी खराबी का हवाला देकर कंपनी ने हेलीकॉप्टर भेजने से मना कर दिया।

Jhunjhunu

इसके बाद जिला अधिकारी ने भी (Jhunjhunu) हेलीकॉप्टर न आने की सूचना दी। इस बात से परिवार बहुत आहत हुआ, किसी तरह खुद को समझाते हुए आनन-फानन में दिल्ली से बीएमडब्ल्यू कार लाई गई। इस कार में दूल्हा निखिल अपनी नई नवेली दुल्हन शिखा को ससुराल श्योपुरा तन तेतरा लेकर पहुंचा। वहीं, परिवार ने हेलीकॉप्टर कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी और सामाजिक प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने का केस दर्ज करवाया है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >