दुश्मन को चारों खाने चित्त कर खुद शहादत को प्राप्त हुए झुंझुनूं के सूूबेदार- जम्मू में थी तैनाती!

Kashmir: जम्मू-कश्मीर के राजौरी (Rajauri) जिले के परगल (Pargal) में आज सुबह (गुरुवार) भारतीय सेना की पोस्ट पर आतंकियों के नापाक इरादों को भारतीय जवानों ने नेस्तनाबूद कर दिया। उन्होंने आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए अपने पराक्रम का स्वाद चखाया। लेकिन दुखद, इस मुठभेड़ में सेना के 6 जवान घायल हो गए, जिनमें 3 शहीद हो गए। शहीद जवानों की फेहरिस्त में झुंझुनूं जिले के सूबेदार राजेंद्र प्रसाद (Jhunjhunu Jawan Martyr in Jammu)भी शामिल हैं। शहीद राजेंद्र प्रसाद झुंझुनूं के ग्राम मालिगोवन, पीओ-काशीमपुरा के निवासी थे। वहीं राजेंद्र के साथ मुदैर (Mudair) के राइफलमैन लक्ष्मणन डी और हरियाणा के फरीदाबाद में रहने वाले राइफलमैन मनोज कुमार शामिल हैं।

आज सुबह इलाके में जवानों ने खराब मौसम और घने पत्तों का फायदा उठाते हुए 2 संदिग्ध व्यक्तियों को अपनी पोस्ट के नजदीक आते देखा। जवानों ने चौकसी बरती, इसी दरमियां संदिग्धों ने चौकी के भीतर घुसने के लिए ग्रेनेड फेंके। सैनिक घबराए नहीं बल्कि उन्होंने इलाके की घेराबंदी कर उनका सामना किया। इस बीच ग्रेनेड से आग भी लग गई।

जवानों ने अपने अदम्य साहस, धैर्य तथा सावधानी का परिचय देते हुए पहले आग पर काबू किया और फिर आतंकवादियों को वहीं ढेर कर दिया, इस पूरे अभियान में 6 जवान घायल हो गए। इनमें तीन पराक्रमी और साहसी सैनिक शहीद हो गए, जिनमें झुंझुनूं (Jhunjhunu Jawan Martyr in Jammu) के बहादुर सैनिक राजेंद्र प्रसाद भी शामिल थे। शहीद राजेंद्र ने सन् 1995 में भारतीय सेना ज्वाइन की थी। जवान की आयु 46 वर्ष थी। उनके पीछे उनकी पत्नि तारामणि, दो बेटियां- प्रिया और साक्षी तथा एक बेटा अंशुल छूट गया है।

यह भी पढ़ें- झुंझुनूं के नवलगढ़ की बेटी सेना में बनीं लेफ्टिनेंट, माता-पिता ने लगाए कंधे पर स्टार

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि