झुंझुनू के इस बच्चे की पेंटिग देख चौंक जाएंगे, अलौकिक होती है सुंदरता!

Jhunjhunu Amit Artist: अमित चित्रकार मुकुंदगढ़ झुंझुनू।
***************************

मन में जगा जुनून,
तो कमरा भर दिया।
पेंटिंग की दुनिया में,
अपना नाम कर दिया।

17 साल की उम्र में तहलका मचाने वाला पेंटर।
*************************************
दोस्तों नमस्कार।
दोस्तों आज मैं आपको एक ऐसे कलाकार से रूबरू करवा रहा हूं, जिसकी चित्रकला, रंगों का सामंजस्य, पेंटिंग की सुंदरता और अनेकों प्रकार की कलाओं को देखकर आप भी मंत्रमुग्ध हो जाएंगे।

परिवार और परिचय।
*****************”
मुकुंदगढ़ (Mukandgarh) के रहने वाले 12वीं क्लास में पढ़ने वाले अमित ने हमारी संवाददाता खुशबू से बात करते हुए अपने बारे में विस्तृत जानकारी दी।उन्होंने कहा कि जब मैं दूसरी क्लास में पढ़ता था, तब से ही मेरी इसमें रूचि बढ़ने लगी और जैसे-जैसे बड़ा होता गया मेरी रुचि बढ़ती गई।अभी मैंने 12 वीं क्लास पास की है। जिसमें मेरे 81% नंबर आए हैं। खुशबू ने पूरे कमरे का निरीक्षण किया तो उसमें सौ से ऊपर अलग-अलग प्रकार की सुंदर तस्वीरें अनेक महानुभावों की लगी हुई थी।
खुशबू ने बताया कि ऐसी पेंटिंग बड़े-बड़े होटलों में देखने को मिलती है।अमित ने बताया कि मैं जैसे-जैसे आगे की क्लासों में गया, मुझे आगे से आगे मोटिवेशन मिलता गया। मैं पेंटिंग की लाइन में सुधार करता चला गया। मैं दिशा ग्रुप से भी जुड़ा। जिसमें मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला।

वातावरण।
**********
अमित ने बताया कि पहले मैं कहीं पर भी बैठकर पेंटिंग बना लेता था। लेकिन बाद में मैंने महसूस किया कि एकांत में, बिना शोरगुल के, बिना लाइट के, बिना पंखे के जब मैं पेंटिंग बनाता हूं, तो बहुत सुंदर बनती है और मेरे को बहुत मजा आता है। दादी ने बताया कि मेरे एक पोता है। जब यह एकांत में बैठकर बिना लाइट के बिना पंखे के काम करता है,तो मैं बहुत रोला करती हूं। लेकिन यह चुपचाप अपने काम में लगा रहता है।
आप किस तरह की पेंटिंग बनाना पसंद करते हैं। इसके जवाब में अमित कहता है कि जिस वक्त मेरा दिमाग जैसा चलता है, मैं वैसी ही पेंटिंग बनाना शुरु कर देता हूं। कलर पेंटिंग, ऑयल पेंटिंग या अन्य।
आगे चलकर आप क्या करना पसंद करेंगे। इसके जवाब में वह है कहता है, कि अभी मैंने 12वीं क्लास पास की है। आगे जिस प्रकार की घरवालों की राय होगी, उसी के अनुसार काम करूंगा। नौकरी भी कर सकता हूं, पेंटिंग में भी अपना कैरियर बना सकता हूं या अन्य। Jhunjhunu Amit Artist
आप बच्चों को क्या संदेश देना चाहते हैं। इसके जवाब में अमित कहता है कि अपने काम में लगे रहो। जैसे-जैसे मेहनत करोगे, निखार आता जाएगा और आपका कैरियर बनता चला जाएगा।अमित की मम्मी ने खुशबू से बात करते हुए कहा कि मुझे भी बहुत अच्छा लगता है यह जो भी सामान मंगवाता है, मैं लाती हूं, लेकिन मेरा यही कहना है कि पहले आप पढ़ाई करो, उसके बाद में पेंटिंग है।

अन्य
******
अमित ने कहा कि सब पसंद करते हैं लेकिन मेरे पापा ज्यादा पसंद नहीं करते हैं। वह तारीफ भी करते हैं, लेकिन गुस्सा भी करते हैं। मेरी मम्मी कहती है कि ग्रामीण अंचल की बढ़िया सी फोटो बनाओ। जिसमें गांव जैसी फीलिंग आये। अंत में झलको मीडिया को मंच उपलब्ध करवाने हेतु बधाई और शुभकामनाएं दी।

अपने विचार।
***********
जज्बा जग जाए कुछ करने का,
तो इंसान कुछ भी कर सकता है।
हिमालय जैसी दुर्लभ चोटियों पर,
एक योद्धा की तरह चढ सकता है।

विद्याधर तेतरवाल,
मोतीसर।

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि