जोधपुर: गुडा बिश्नोई में है पारंपरिक रिसॉर्ट, जहां की मिट्टी की खुशबू कराती है आपको अद्भुत अहसास!

Jodhpur Guda Bishnoi Resort: गुडा बिश्नोई रिसॉर्ट, जोधपुर, राजस्थान।
****************************

गाय का गोबर देसी दवाई,
रोग दोष मिट जाए।
गर्मी में ठंडा और ठंड में गरम,
अलौकिक शांति पाएं।

अलौकिक शांति का अद्भुत रिसोर्ट।
*****************************
दोस्तों नमस्कार!
दोस्तों, आज मैं आपको एक ऐसे स्थान पर ले चलता हूं, जहां का अलौकिक दृश्य देख कर आप भी दंग रह जाएंगे। इस जगह  अप्रैल मई की गर्मी में भी आपको शीतलता महसूस होगी, ठंड महसूस होगी। जहां का खान पान, रहन सहन अद्भुत है। पुरानी कलाकृतियां, पुरानी वस्तुएं पुराना खानपान और पुराना व्यक्तित्व आपको बुजुर्गों की याद दिलाता है।

स्थान का परिचय।
****************

Jodhpur Guda Bishnoi
जोधपुर जिले के गुडा बिश्नोई (Jodhpur Guda Bishnoi ) में एक रिसोर्ट बना हुआ है, जिसके मालिक ने खुशबू से बात करते हुए विस्तृत जानकारी दी। सबसे पहले एक बड़े झोपड़े के अंदर प्रवेश किया, जिसकी दीवारें लकड़ी से बनी हुई तथा जिसके ऊपर का भाग अर्थात छत भी लकड़ियों से बनी हुई थी। जिसकी कारीगरी देखने लायक अद्भुत थी। मिट्टी और गोबर से उसका लेप किया हुआ और तरह-तरह की कलाकृतियों से दीवार सजी हुई । ऊपर एक पंखा लगा हुआ लेकिन अंदर ठंड का आभास हो रहा, जैसे एसी चला रखी हो।

विशेषता।
**********

bishnoi news
एक अन्य कमरे के अंदर प्रवेश करने से पहले मुख्य दरवाजा, जो बहुत ही पुरानी विधि के अनुसार सांकल, कुंदे लगे हुए और बिल्कुल पूरी बनावट पुरानी विधि के अनुसार। चारों तरफ गाय के गोबर और मिट्टी का लेप होने के कारण कोई कीटाणु और मच्छर नहीं रहते हैं। बहुत ही पुरानी रंगीन कलाकृतियों से दीवार मनमोहक लग रही थी, बिजली के बटन बहुत ही पुरानी किस्म और बहुत ही पुरानी वस्तुओं से कमरा सजा हुआ।
एक अन्य कमरे में प्रवेश करने पर मालूम हुआ कि वह बिल्कुल आधुनिकता से सुसज्जित था, जिसमें ऐसी, बड़े लेट बाथरूम, दीवार पर बनी ठनी की विशेष तस्वीर,चार चांद लगाने वाली हवादार खिड़कियां,सुंदर पर्दे, जहां एक पूरा परिवार सुंदर तरीके से रह सकता है।

भोजन।
********
भोजन की बात पर रिसोर्ट के मालिक ने बताया कि यहां पर पूर्ण रूप से राजस्थानी भोजन, जिसमें दाल बाटी चूरमा,बाजरे की रोटी और गुड़ से बनाया चूरमा, जिसमें अंगुलियों में से निकलता घी हो। सब्जी में कैर, सांगरी,मिर्च खिंपोली, जो यहां के पेड़ पौधों में लगती है की सब्जी, छाछ की कढ़ी, रायता, छाछ गेहूं की रोटी आदि दिया जाता है। Jodhpur Guda Bishnoi Resort
यहां पर छाछ, दूध, दही, घी सब घर की गायों का ही है। जिसमें किसी प्रकार की या अन्य मिलावट नहीं है। शुद्ध और देसी है। अंत में उन्होंने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि हमको हमारी संस्कृति बचाने के लिए बिल्कुल देसी और शुद्ध खानपान लेना है। जिसमें किसी प्रकार की मिलावट, बनावट और दिखावा ना हो।

अपने विचार।
************

जहां प्रकृति का आभास हो,
और मन को सुकून मिले।
खुशी मिले परिवार को,
मन मंदिर में फूल खिले।

विद्याधर तेतरवाल,
मोतीसर।

सरदारशहर में दो ईंटों से तैयार किया गया तेजाजी महाराज का विशालकाय मंदिर, जानें इसका रहस्य!

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि