Connect with us

जोधपुर

जोधपुर के राजूराम विश्नोई की कहानी जो 250 फीट गहरी खाई में गिरकर हुए थे शहीद

Published

on

बीते साल मार्च में अरुणाचल प्रदेश के त्वांग क्षेत्र में एक ट्रक दुर्घटना में आर्मी में नायक राजूराम विश्नोई का निधन हो गया था। राजूराम के देहांत के बाद उनके शव का जोधपुर जिले के उनके पैतृक गांव फींच हमीर नगर में सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार  किया गया।

बता दें कि आर्मी सर्विस कोर की 505 बटालियन में तैनात नायक राजूराम के लूम्पो से तवांग जाने के दौरान बीच रास्ते में उनकी गाड़ी एक 250 फीट गहरी खाई में जा गिरी। खाई में गिरने के बाद उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

सेना में भर्ती होने के बाद से राजूराम 505 बटालियन में तैनात थे और वहां काफी समय से अपनी सेवाएं दे रहे थे।

राजूराम के पिता का नाम भूराराम है और सेना में शहीद होने के दौरान उनकी दो 7 और 3 साल की बेटी हैं। वहीं राजूराम के शहीद होने की खबर जिस दिन आई तब उनकी पत्नी सुगना देवी गर्भवती भी थी।

राजूराम के गांव के लोग उनके शहीद होने के बाद आज भी उनकी वीरता के किस्से सुनाकर भावविभोर हो जाते हैं। वहीं इसी साल मार्च में राजूराम की शहीदी को एक साल होने पर उनके पैतृक गांव में कई कार्यक्रम भी आयोजित किए गए।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >