पाली के 3 छात्रों ने UPSC परीक्षा में कर दिया कमाल, देखें इनकी कहानी

Rajasthan News: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित सिविल सर्विसेज परीक्षा, 2021 के परिणाम में पाली जिले के तीन छात्रों ने सफलता प्राप्त कर पाली के मान को बढ़ा दिया है। कहते हैं कि अगर आपके पास कुछ करने का साहस है तो परिस्थितियां चाहे जैसी भी हो जो हो आप वो कर गुजरते है। इसी तरह पाली जिले के तीन छात्रों के सफलता की कहानी है।

परिवारिक हालात अच्छे नहीं पर भी आकाश ने हासिल किया लक्ष्य

UPSC

बाली (Bali) तहसील के भाटूद निवासी आकाश शर्मा के परिवार की हालत बहुत बेहतर नहीं है। लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के बावजूद भी उन्होंने अपने साहस और कठिन मेहनत की बदौलत संघर्ष जारी रखा। इसी का परिणाम हुआ कि उन्होंने यूपीएससी परीक्षा में ऑल इंडिया 507वीं रैंक हासिल कर पूरे परिवार का नाम रोशन कर दिया। आकाश ने बीकानेर  (Bikaner) के सरकारी काॅलेज से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। 2018 और 19 में भी वह यूपीएससी परीक्षा के इंटरव्यू तक पहुंच कर असफल हो गए। तमाम आर्थिक परेशानियों के बावजूद वो लगातार तैयारी में जुटे रहे और इसी का परिणाम हुआ कि उन्हें इस बार सफलता प्राप्त हुई। आशीष के अंदर आईएएस (IAS) बनने की सोच तब आई जब वो पाली में एक आईएएस से मिले थे। आज आशीष के इस सफलता से परिवार काफी खुश हैं और बधाई दे रहे हैं।

23 साल की माविस टांक ने 386वीं रैंक किया हासिल

बाली उपखंड के फालना (Falana) की मूल निवासी माविस टांक ने महज 23 साल की उम्र में ऑल इंडिया 386वीं रैंक हासिल की है। मेविस के यूपीएससी परीक्षा में सफलता को लेकर पूरे इलाके के लोग काफी खुश है और बधाई दे रहे हैं। माविस की शुरुआती पढ़ाई फालना के नोबल स्कूल से हुई। बाद में परिवार मुबंई (Rajasthan News) चला गया। मुंबई में ही रहकर मेविस ने आईएएस की तैयारी शुरू की। बहन आईएएस छात्रों को कोचिंग कराती है। मां गहणी तो पिता हाईकोर्ट में ट्रांसलेटर हैं। माविस कहती हैं कि माता-पिता, बहन सभी के सहयोग से यह मुकाम हासिल किया है।

भविष्य ने IAS बनने के लिए 35 लाख का पैकेज  छोड़ा

पाली (Pali) जिले के सोजत के गागुड़ा निवासी भविष्य ने यूपीएससी परीक्षा में ऑल इंडिया 29वीं रैंक हासिल की है। हालांकि भविष्य के पिता गोपाराम को गागुड़ा छोड़े 25 साल हो गए, लेकिन उनके बेटे के सफलता पर गांव में खुशी की लहर दौड़ गई है। पिता ने बताया कि भविष्य ने कानपुर आईआईटी से बीटेक किया था। सिंगापुर में 35 लाख रुपये का पैकेज छोड़ आईएएस की तैयारी की। भविष्य ने पहले ही प्रयास में 29वीं रैंक हासिल कर लिया।

 

 

 

 

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि