छात्रसंघ चुनाव ने लिया हिंसक मोड़- नामांकन के दिन फूटे सिर- 2 पुलिस और 24 से ज्यादा समर्थक घायल

Rajasthan University Election 2022: राजस्थान यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ चुनाव में नामांकन के दौरान भारी हंगामे हो गए। जयपुर, बाड़मेर और अजमेर सहित कई जिलों में पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ पर काबू पाया। जयपुर में एक घंटे के भीतर यूनिवर्सिटी गेट पर 3 बार लाठीचार्ज हुआ। इस पूरे उत्पात में निर्दलीय उम्मीदवार निर्मल चौधरी की बहन तथा एबीवीपी प्रत्याशी हताहत हुए हैं। जैसे ही दो गुटों में पुलिस ने भिड़ंत देखी तब पुलिस ने लाठीचार्ज (RUSU Election 2022 ) शुरू कर दिया।

students

सोमवार दोपहर तकरीबन ढाई बजे निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल अपने समर्थकों के साथ यूनिवर्सिटी में दाखिल होने पहुंचे, लेकिन पुलिस ने उनके हुजूम को वहीं रोक दिया, जिससे निर्मल चौधरी और समर्थक नाराज हो गए और उन्होंने वहीं प्रदर्शन शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस और निर्मल के बीच बहस हो गई और यह बहस झिड़प में बदल गई। नतीजत,  पुलिस ने लाठीचार्ज शुरू कर दिया। लाठीचार्ज में तकरीबन 2 दर्जन से भी ज्यादा छात्रों को चोट पहुंची है। कथित तौर से पुलिस ने गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए, जिससे एक समर्थक के सीने में कांच घुस गया।

एक घंटे बाद यानी 3:30 बजे एबीवीपी (ABVP) के प्रत्याशी नरेंद्र अपने हुजूम के साथ विश्वविद्यालय (RUSU Election 2022 ) पहुंचा। इस बीच दो दल आमने-सामने हो गए, जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए  लाठीचार्ज कर दिया, इसमें एबीवीपी (ABVP) प्रत्याशी नरेंद्र को बहुत सी चोटे आई हैं, वहीं इस उपद्रव में दो पुलिस अफसर का सिर फटने की सूचना भी है।

studentsw

लाठीजार्च के बाद निर्मल के समर्थक गांधी नगर थाने (Gandhi Nagar) के बाहर धरने पर बैठ गए, जहां पुलिस ने फिर भीड़ को हटाने के लिए लाठी का सहारा लिया। निर्मल को अज्ञात जगह ले जाया गया है, एबीवीपी (ABVP) ने यूनिवर्सिटी के मैन गेट पर धरना शुरू कर दिया है, तो वहीं दूसरी ओर एनएसयूआई (NSUI) के मानाराम लेगा (Manaram Lega) और एबीवीपी के बागी उम्मीदवार शिवकरण रैली निकाल कर कॉलेज पहुंचे दोनों गुट जब आमने-सामने आए तो वह बुरी तरह एक-दूसरे से भिड़ गए, जिसके बाद पुलिस ने फिर हिंसा का सहारा लिया। इस बीच बहुत से समर्थकों को चोटें भी आईं। निर्दलीय उम्मीदवार शिवकरण और उनके समर्थक लाठीचार्ज के विरोध में कॉलेज के आगे प्रोटेस्ट करने लगे।

rajasthan election

आपको बता दें, आने वाली 26 अगस्त को राजस्थान यूनिवर्सिटी (Rajasthan University Election 2022) में छात्रसंघ के चुनाव होने जा रहे हैं, और आज नामांकन का दिन था। वहीं, लाठीचार्ज को लेकर वहां मौजूद आसपास के लोगों का कहना है कि आज का दिन नामांकन का था, क्योंकि सभी गुट आज समर्थकों के साथ आमने-सामने हुए तो स्थिति बिगड़ी। वहीं पुलिस को भी आज के लिए तैयार रहना चाहिए था, इसके पुख्ता इंतजाम होने चाहिए थे। बार-बार हुई लाठीचार्ज से छात्रों में आक्रोश बढ़ा है, जिससे अब पुलिस की किरकिरी हो रही है। वहीं एक अन्य समर्थक ने कहा कि प्रोटेस्ट को लाठीचार्ज द्वारा हिंसक बनाया गया है, पूरी तरह पुलिस प्रशासन की गलती है। आपकी इस बारे में क्या राह है, हमें जरूर बताएं।

यह भी पढ़ें- कौन हैं NSUI की अध्यक्ष पद की प्रत्याशी रितु बराला, जिनके नाम का डंका कॉलेज में जमकर बजता है!

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि