सीकर के इस शख्स ने खरपतवार का अनोखा रिकॉर्ड कायम कर दिया

World Record of Weed in Sikar: धर्मेंद्र खोवाल, लक्ष्मीपुरा पिपराली सीकर।
***********************************

छोटा भी छोटा नहीं होता,
यह जगह जगह का फेर है।
वक्त सभी का आता है,
कभी जल्दी कभी देर है।

खेत की खरपतवार का अनोखा रिकॉर्ड।
*********************************
दोस्तों नमस्कार!
दोस्तों आज मैं आपको एक ऐसे स्थान पर ले चलता हूं, जहां पर खेती में होने वाली खरपतवार (Weed) ने भी अपना एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाने की तरफ कदम बढ़ाया है। देखकर और सुनकर हंसी भी आती है, पर सच्चाई को कौन नकार सकता है। हर वस्तु का समय समय पर अपना एक अलग महत्व है। जिसको मैं नीचे विस्तार से आपके सामने रख रहा हूं।

स्थान और परिचय।
****************

Sikar

सीकर (Sikar) जिले के पिपराली (Piprali) के पास में लक्ष्मीपुरा गांव (Laxmipura Village) के रहने वाले धर्मेंद्र (Dharmendra) ने हमारे संवाददाता से बात करते हुए अपने खेत में हुई खरपतवार को संरक्षण देने और उसको विशेष महत्व तक ले जाने के बारे में विस्तार पूर्वक बातें की। उन्होंने बताया कि मेरे खेत पर भी खरपतवार सामान्य खेतों की तरह होती है। मैंने घर के पास बथुआ का पौधा देखा जो एक खरपतवार है। सामान्य तौर पर यह बथुआ कड़ी, रायता,सब्जी, चटनी, आदि बनाने के काम में आता है।
धर्मेंद्र ने बताया की बथुआ के पौधे को देखने के बाद में मुझे इसके बारे में अधिक जानकारी लेने की चेष्टा हुई। मैंने इसके बारे में पढ़ना शुरू किया तो पाया कि इसका भी ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में नाम दर्ज था। हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के एक गांव में इसकी लंबाई 18 फुट 3″ गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज है।तो मैं भी इसको सरंक्षण देने और बढ़ाने के बारे में सोचने लगा।
धर्मेंद्र ने उसको अलग से पानी डालना, उसको संरक्षण देना, उसकी निराई गुड़ाई करना आदि कामों में लग गया। उसने आज उस पौधे को 16 फुट से अधिक का नाप कर बताया है। धर्मेंद्र ने बताया कि मैं उसका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करवाना चाहता हूं। अब मेरी चाहत कोई नहीं रोक सकता क्योंकि मेरे पूरे घरवाले अब मेरे साथ में है।

घरवालों की शब्द।
****************
धर्मेंद्र की दादी ने बताया की शुरुआत में जिस प्रकार खरपतवार खड़ी होती,उसी प्रकार हमारे खेत पर हुई थी, लेकिन यह एक पौधा पता नहीं कैसे बच गया और इसने बढना शुरू कर दिया। बथुआ की सब्जी बहुत ही स्वास्थ्यवर्धक होती है और किस प्रकार बनाई जाती है वह भी दादी ने विस्तार पूर्वक बताई। दादी ने बताया कि अब हम भी बच्चे के विचारों से सहमत हैं। और पूरे घरवाले इसके साथ इसको बढ़ाने में एकमत है। World Record of Weed in Sikar
धर्मेंद्र की बहन ने परीक्षा में बथुआ से संबंधित प्रश्न की आने की बात कही। बथुआ एक स्वास्थ्यवर्धक सब्जी है इसकी हरी पत्तियों से किस प्रकार सब्जी बनाई जाती है,. इसको विस्तार पूर्वक समझा कर भी उसने बताया। धर्मेंद्र की मम्मी ने भी अपने बच्चे के विचारों से सहमत होकर अपने विचार व्यक्त किए।

अपने विचार।
************
मन में उत्साह भरपूर हो,
और परिवार का हो साथ।
उसकी सफलता कौन रोकेगा,
जिसके अनंत साथ में हाथ।

विद्याधर तेतरवाल,
मोतीसर।

सनी डांसर जिसने लड़की का वेश बना राजस्थानी कला को दिया अनोखा रूप!

 

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि