Connect with us

राजस्थान

राजस्थान में REET Paper लीक का घमासान ~ मंत्री सुभाष गर्ग ने BJP पर किया पलटवार

Published

on

subhash garg

जयपुर : प्रदेश में इस समय हर तरफ रीट पेपर लीक मामले पर घमासान जारी है। इस मामले में हो रही गिरफ्तारी के बाद से विपक्ष की ओर से सरकार को लगातार घेरने की कोशिश की जा रही है। वही, दूसरी तरफ राज्य सभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा भी मंत्री सुभाष गर्ग पर जमकर हमले कर रहे है।

रीट परीक्षा मामले में बीजेपी नेताओं के बयान पर आज राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग भी पलटवार करते हुए अपने बचाव में बयान दिया। और इस मामले में अपना किसी भी तरह का संबंध होने से इनकार किया। इतना ही नहीं उन्होंने राजनीतिक विरोधियों द्वारा उनकी छवि को बिगाड़ने तक की बात कही।

मंत्री सुभाष गर्ग ने आरोप लगाते हुए कहा कि “फिलहाल एसओजी इस मामले में जांच कर रही है और पेपर लीक से जुड़ी गैंग के संपर्क को ढूंढा जा रहा है और इस मामले में उन गैंग के किस – किस राजनेताओं से संबंध है इस बात को भी जल्द तलाशा जाएगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी इस मामले में गिरोह को खत्म करने की दिशा में कदम बढ़ाए है, लेकिन पहले इस बात को बताया जाए की जो लोग सीबीआई जांच की मांग कर रहे है, क्या वह सीबीआई और ईडी दबाव मुक्त हो कर काम रही है? इस मामले में कितने ही बड़ा व्यक्ति क्यों न हो लेकिन वो बचेगा नहीं”

आगे गर्ग ने कहा कि “वर्चस्व की लड़ाई में विपक्ष की ओर से सरकार के मंत्रियों की छवि खराब करना चाहते है। लेकिन जल्द ही एसओजी की जांच में यह बात सामने आ जाएगी कि पेपर लीकर करने वाली गैंग गिरोह से कोई बड़ा नेता जुड़ा है या नहीं। एसओजी निष्पक्ष जांच कर रही है और अगर इस मामले में कोई दोषी पकड़ा जाएगा चाहे वह सुभाष गर्ग ही क्यों न हो उसे बख्शा नहीं जाएगा।”

राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा पर गर्ग ने हमला बोलते हुए कहा कि “सांसद किरोड़ी मीणा के संपर्क सूत्र कहां तक जुड़े हुए है इसकी भी जांच होनी चाहिए”

मंत्री सुभाष गर्ग ने राजीव गांधी स्टडी सर्किल पर सवाल खड़े करने पर उन्होंने यह कहा कि कि “किसी भी विचारधारा से जुड़े शिक्षक संगठन को जिम्मेदारी आज से पहले भी दी जाती रही है। राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ और एबीवीपी को BJP सरकार में तरजीह मिलती रही है और इनके पदाधिकारियों को भी बोर्ड में जगह दी गई है। बस राजनीतिक जलन के कारण मेरा नाम लिया जा रहा है।”

   
    >