जलपरी के नाम से विख्यात उदयपुर की झरना लंदन में खेलती हैं मौ’त का खेल- बनती हैं डूबते का सहारा

उदयपुर: झीलों का नगर उदयपुर की झरना कुमावत (Udaipur Jharna Kumawat Story) ने हाल ही में अपनी टीम रिले के साथ मिलकर ने 14 घंटे 40 मिनट में डोवर से फ्रांस तक की दूरी सफलतापूर्वक तैर कर पार की है। पांच सदस्यीय टीम के साथ इंग्लिश चैनल पार करने वाली झरना इंटरनेशनल ओपर वाटर स्वीमर हैं। यह कारनामा कर न केवल उन्होंने राजस्थान बल्कि भारत का नाम भी विश्व जगत में रोशन किया है। वर्तमान में झरना लंदन में रह रहीं हैं, जहां वह जलपरी नाम से विख्यात हैं। आइए, झरना के बारे में कुछ दिलचस्प बातें जानते हैं, जिन्हें जान आप उन पर और प्राउड फील करेंगे।

Udaipur

झरना कुमावत का जन्म और शुरुआती पढ़ाई उदयपुर में ही हुई। जिसके बाद आगे की पढ़ाई के लिए वह लंदन चली गईं, वहीं उन्होंने शादी की। यहीं से झरना को तैराकी में दिलचस्पी बढ़ी और उन्होंने इसी क्षेत्र में आगे बढ़ने के बारे में सोचा।

Udaipur Jharna Kumawat Story

आज झरना इतनी एक्सपर्ट हो चुकी हैं कि उन्होंने टीम रिले के साथ मिलकर 14 घंटे 40 मिनट में 33 किलोमीटर का सफर तय किया है, झरना और उनकी टीम के लिए यह काम किसी जोखिम से कम नहीं था, जब उन्होंने तैरना शुरू किया तो मौसम बुरी तरह खराब हो गया था, वहीं उभनती लहरें टीम के हौसले को त्रस्त करने की पूरी कोशिश कर रही थीं। समुंद्री काले घने बादलों को चीरते हुए टीम आगे बढ़ती गई और अंत में सफलता हासिल की। इस बीच झरना को दो बार स्लॉट मिले, यानी उन्होंने दो बार तैराकी की, जो वाकई उनकी हिम्मत और हौसले को बयां करते हैं। झरना की टीम रिले में ब्राजील, मोजाम्बिक, कैन्या, पेरू और इडोनेशिया के तैराक शामिल थे।

Udaipur Jharna Kumawat Story

खास बात है कि झरना एक ऐसी संस्था से जुड़ी हैं, जो समुंद्र तटों पर रहकर (Udaipur Jharna Kumawat Story) समुंद्र में डूब रहे लोगों की जान बचाती है। वह स्विमटायका नामक इंग्लिश चैरिटी संस्थान से जुड़ी हैं, स्विमटायका नामक इंग्लिश चैरिटी संस्थान दक्षिण एशिया,अमेरिका और इंडोनेशिया में समुंद्री तटों के बच्चों को स्विमिंग का फ्री प्रशिक्षण प्रदान करात है तथा डूबने वाले लोगों की जान भी बचाती है। हर साल तटों पर हजारों लोगों की मौ’त हो जाती है। स्विमटायका इन देशों में अपनी टीम को भेजकर लोगों की जान बचाने के साथ ही उन्हें तैरने की ट्रेनिंग भी देती हैं, और झरना इसी टीम की एक प्रमुख सदस्य हैं।

यह भी पढ़ें- फ्रांस में उदयपुर की बेटी ने तैराकी में किया मुकाम फतेह, पौने 5 घंटे में तय किया 33 KM का सफर

Add Comment

   
    >
राजस्थान की बेटी डॉ दिव्यानी कटारा किसी लेडी सिंघम से कम नहीं राजस्थान की शकीरा “गोरी नागोरी” की अदाएं कर देगी आपको घायल दिल्ली की इस मॉडल ने अपने हुस्न से मचाया तहलका, हमेशा रहती चर्चा में यूक्रेन की हॉट खूबसूरत महिला ने जं’ग के लिए उठाया ह’थियार महाशिवरात्रि स्पेशल : जानें भोलेनाथ को प्रसन्न करने की विधि