Connect with us

उत्तर प्रदेश

मांग भरने से पहले दूल्हा मंडप में हुआ बे’होश, दुल्हन ने किया शादी से इनकार

Published

on

fainted groom at marriage in uttar pradesh

दुल्हन को लाने गए एक दूल्हे राजा के अरमानों पर उस वक्त पानी फिर गया जब मांग भराई की रस्म से ठीक पहले दुल्हन के परिवार वालों ने दूल्हे समेत उनके परिवार को बंधक बना लिया.

उत्तरप्रदेश के सासामुसा टोला बीना गांव के निवासी उपेन्द्र कुमार की शादी इन दिनों गली मोहल्लों में चर्चा का विषय बनी हुई है जहां बारात लेकर दुल्हन के घर पहुंचे उपेन्द्र पर दुल्हन ने बीमारी का आरोप लगाते हुए शादी करने से इनकार कर दिया.

धूमधाम से गई थी बारात

दरअसल उपेन्द्र जो कि एक मिस्त्री का काम करता है, उसका रिश्ता कुशीनगर जिले के तरेया सुजान थाने के बैजुपुट्टी निवासी गोरख निषाद के घर तय हुआ था जहां 17 जून को धूमधाम से वर पक्ष के लोग बारात लेकर पहुंचे.

वधू पक्ष के लोगों ने बारातियों का स्वागत किया जिसके बाद शादी की रस्मों की शुरूआत मंगल गीतों के साथ हुई और एक-एक करके सभी रस्मों की अदायगी हुई.

मांग भरते समय बेहोश होकर गिर पड़ा दूल्हा

इस बीच जब दुल्हन की मांग में सिंदूर भरने का समय आया तो दूल्हे के हाथ कंपकंपाने लगे और देखते ही देखते पसीने में लथपथ दूल्हा बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ा.

दूल्हे को बेहोश होते देख वहां मौजूद हर कोई हक्का-बक्का रह गया और दुल्हन ने शादी करने से इनकार कर दिया.

दूल्हे समेत 15 बारातियों को बना लिया बंधक

वर और वधू पक्ष के लोगों के बीच गतिरोध बढ़ने लगा जिसके बाद दुल्हन के परिवार वालों ने दूल्हे उपेन्द्र समेत 15 बारातियों को बंधक बना लिया.

मिली जानकारी के मुताबिक दुल्हन पक्ष के लोगों ने दूल्हे और बारात को दो दिन तक बंधक बनाए रखा.

खाली हाथ लौटा दूल्हा, भरना पड़ा सारा खर्च

दो दिन तक बंधक बनाए रखने के बाद पंचायत की पहल पर दुल्हन पक्ष के लोगों ने दूल्हे और परिजनों को छोड़ा. वहीं दूल्हे के परिजनों को बारात का सारा खर्च और गहने वधू पक्ष को लौटाने पड़े. खाली हाथ इस तरह गांव लौटी बारात को देखकर हर कोई हैरान गया.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

   
    >